NASA Mars Mission Update : नासा का हेलीकॉप्टर Ingenuity हुआ पूरी तरह तैयार, इस दिन भरेगा मंगल ग्रह पर ऐतिहासिक उड़ान

Mars Helicopter Update: अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने कहा है क‍ि उसके हेलीकॉप्टर की मंगल ग्रह पर सोमवार को ऐतिहासिक पहली उड़ान हो सकती है. नासा ने बताया क‍ि इस हेलीकॉप्टर की तकनीकी गड़बड़ी को दूर कर ल‍िया गया है.

NASA Mars Mission Update : नासा का हेलीकॉप्टर Ingenuity हुआ पूरी तरह तैयार, इस दिन भरेगा मंगल ग्रह पर ऐतिहासिक उड़ान
Mars Helicopter Ingenuity

नई दिल्ली: मंगल ग्रह (Mars) पर जीवन के प्रमाण की खोज में जुटा नासा (NASA) के हेलीकॉप्टर ने लाल ग्रह की भीषण सर्दी को झेल कर अब नई चुनौतियों के लिए पूरी तरह तैयार है. दरअसल Ingenuity कुछ तकनीकी दिक्‍कतों का सामना कर रहा था. लेकिन अब ये उड़ने को पूरी तरह तैयार हो गया है.  नासा के अनुसार, अगर सबकुछ योजना के मुताबिक चला तो हेलीकॉप्टर Ingenuity सोमवार को ऐतिहासिक उड़ान (NASA Mars Mission) भर सकता है.

पूरी दुनिया की निगाह इस उड़ान पर 

गौरतलब है कि पृथ्‍वी के बाहर किसी भी दूसरे ग्रह पर पहली बार कोई हेलीकॉप्टर उड़ान भरेगा. और यही वजह है कि पूरी दुनिया की निगाह नासा के इस चमत्कार पर टिकी हुई है. दूसरी तरफ नासा के वैज्ञानिक भी इस मिशन को लेकर बेहद उत्साहित हैं. साथ ही, लाल ग्रह के हर स्थिति पर ये वैज्ञानिक पैनी नजर भी बनाए रखे हैं.

ये भी पढ़ें- डायनासोर के पेट से निकला था पत्थर, दर्द में चला 1000 KM तक; वैज्ञानिक भी हुए हैरान

नासा के वैज्ञानिक उत्साहित 

वहीं, नासा का कहना है कि रोवर के विपरीत हेलिकॉप्‍टर के उड़ने की तस्‍वीरों या वीडियो को तत्‍काल नहीं देखा जा सकता है. ऐसे में ये पता चलना मुश्किल है कि यह मिशन सफल रहा या नहीं. नासा के मुताबिक, कैलिफोर्निया स्थित नासा की टीम को सोमवार को इसका पहला डेटा मिलेगा.  नासा के वेबसाइट पर इस उड़ान का लाइव प्रसारण भी किया जाएगा.

हेलिकॉप्टर सफल रहा तो मिशन भी 90% सफल

अब तक मिली जानकारी के अनुसार, हेलिकॉप्‍टर Ingenuity  ने रैपिड स्पिन टेस्‍ट को पास कर लिया है. अब इस हेलिकॉप्‍टर को खुद से मंगल ग्रह के वातावरण में उड़ान भरनी होगी. Ingenuity की हालत एकदम सही है और इसकी ऊर्जा-संचार प्रणाली सही से काम कर रही हैं. गौरतलब है कि NASA  ने कहा था कि अगर हेलिकॉप्टर टेक ऑफ और कुछ दूर भी घूमने में सफल रहा तो ये मिशन 90% सफल रहेगा.

ये भी पढ़ें- China में साल 2019 से पहले फैल चुका था कोरोना वायरस, दुनिया से छुपाया गया ये राज

रोटरक्राफ्ट है जरूरी

मंगल पर संभावनाएं तलाश रहे नासा को रोटरक्राफ्ट की बेहद जरूरत है क्योंकि वहां की सतह बेहद ऊबड़-खाबड़ है. और ऐसी स्थिति में नासा का ऑर्बिटर एक सतह को ही देख सकता है. रोवर के लिए लाल ग्रह की हर सतह तक जाना मुमकिन नहीं. ऐसे में रोटरक्राफ्ट उड़ कर मुश्किल जगहों पर जाएगा और हाई-डेफिनेशन तस्वीरें एकत्रित करेगा.

विज्ञान से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.