close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

माउंट किलिमंजारो पर लहराया तिरंगा, भारत की 7 लड़कियां ने फतह की चोटी

किलिमंजारो की चोटी समुद्र तल से 5895 मीटर ऊंची है. इस तक पहुंचने के लिए सतह से 4,900 मीटर की चढ़ाई करनी पड़ती है. 

माउंट किलिमंजारो पर लहराया तिरंगा, भारत की 7 लड़कियां ने फतह की चोटी
अफ्रीका की सबसे ऊंची पर्वत चोटी माउंट किलिमंजारो फतह करने वाली लड़कियां. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: अफ्रीका की सबसे ऊंची पर्वत चोटी माउंट किलिमंजारो की चढ़ाई कर भारत की सात लड़कियों ने इतिहास रच दिया है. द लॉरेंस स्कूल सनावर की 15 से 18 वर्ष की ये सात लड़कियां अपने स्कूल की दो महिला कर्मचारियों के साथ सात अगस्त को इस यात्रा पर निकली थीं. 11 दिवसीय इस यात्रा अभियान के दौरान उन्होंने पूर्वी अफ्रीका के तंजानिया में स्थित किलिमंजारो पर्वत की चढ़ाई की. 

किलिमंजारो की चोटी समुद्र तल से 5895 मीटर ऊंची है. इस तक पहुंचने के लिए सतह से 4,900 मीटर की चढ़ाई करनी पड़ती है. 

इस यात्रा अभियान की अगुवाई अजीत बजाज ने की. वे द लॉरेंस स्कूल सनावर के छात्र रह चुके हैं. वे खुद एक प्रसिद्ध माउंटेनियर हैं और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित हैं. बजाज ने पिछले साल अपनी बेटी के साथ माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने में सफलता हासिल की थी. वे अंटार्कटिका की भी सबसे ऊंची चोटी पर पहुंच चुके हैं.