close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

AIBA Boxing Championship: पंघल दूसरी बार क्वार्टर फाइनल में, मनीष ने किया उलटफेर

AIBA World Boxing Championship: अमित पंघल, मनीष कौशिक, संजीत और कविंदर सिंह बिष्ट ने क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है. 

AIBA Boxing Championship: पंघल दूसरी बार क्वार्टर फाइनल में, मनीष ने किया उलटफेर
अमित पंघल ने लगातार दूसरी बार टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है. (फोटो : IANS)

एकातेरिनबर्ग (रूस): भारतीय मुक्केबाजों ने एआईबीए पुरुष विश्व चैम्पियनशिप (AIBA World Boxing Championship) में शानदार प्रदर्शन किया है. चार भारतीय मुक्केबाजों ने चैंपियनशिप के क्वार्टरफाइनल में  जगह बनाने में सफलता पाई है. एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघल (Amit Panghal) (52 किग्रा) और मनीष कौशिक (63 किग्रा)सहित चार भारतीय मुक्केबाजों ने चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. अपने पहले विश्च पदक की तलाश में लगे दूसरी सीड पंघल ने मंगलवार को प्री-क्वार्टर फाइनल में तुर्की के बालुहान सीफसी को को 5-0 से करारी शिकस्त दी.

पंघल दूसरी बार पहुंचे क्वार्टरफाइनल में
पंघल मुकाबले में शुरूआत से ही अपने प्रतिद्वंद्वी पर भारी नजर आए और 30-27, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27 से जीत दर्ज की. पंघल ने इस जीत के बाद कहा, "यह जीत मेरे और मेरे देशवासियों के लिए अच्छी बात है. उन सभी को धन्यवाद जो मेरा समर्थन कर रहे हैं. मैं जो रणनीति बनाई थी, उसी हिसाब से मैं खेला. आगे भी जैसा भी मुक्केबाज होगा, उसके खिलाफ उसी तरह की रणनीति बनाएंगे. और आखिरी में मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके जन्मदिन की बधाई देना चाहता हूं." पंघल लगातार दूसरी बार विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे हैं. क्वार्टर फाइनल में पंघल का सामना फिलिपींस के कारलो पॉम से होगा. पंघल ने पिछले साल एशियाई खेलों में पॉम को पराजित किया था.

मनीष कौशिक ने किया यह उलटफेर
पंघल के बाद मनीष कौशिक (63 किग्रा) क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय रहे. मनीष ने बड़ा उलटफेटर करते हुए पिछले साल हुए एशियाई खेलों के रजत पदक विजेता और चौथी सीड मंगोलिया के बातारसुख चिनजोरिंग को 5-0 से करारी शिकस्त दी. चौथी सीड को हराने के बाद मनीष पदक से केवल एक कदम दूर हैं. भारतीय खिलाड़ी मुकाबले में शुरूआत से ही अपने प्रतिद्वंद्वी पर भारी नजर आए और 30-27, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27 से जीत दर्ज की.

संजीत भी पहुंचे क्वार्टर फाइनल में
संजीत (91 किग्रा) भी क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में कामयाब रहे. संजीत ने प्री-क्वार्टर फाइनल में दूसरी सीड उज्बेकिस्तान के संजर तुरसुनोव को 4-1 से शिकस्त देकर अंतिम आठ में प्रवेश किया. पहली बार विश्व चैम्पियनशिप में भाग ले रहे संजीत ने का तुरसुनोव के खिलाफ यह लगातार दूसरी जीत है. उन्होंने इससे पहले 2018 के इंडिया ओपन में भी तुरसुनोव को हराया था. संजीत ने इस जीत के बाद कहा, "मेरा मुकाबला उज्बेकिस्तान से वल्र्ड नंबर दो के खिलाफ था. मैं उन्हें पहले भी हरा चुका हूं, इसलिए मैं मुकाबले को लेकर आश्वस्त था." 

क्वार्टर फाइनल में संजीत का सामना सातवीं सीड और इस साल के पैन अमेरिकी खेलों के रजत पदक विजेता इक्वाडोर के जूलियो सेसर टोरेस कैस्टिलो से होगा.उन्होंने कहा, "मेरा अगला मुकाबला इक्वाडोर के खिलाड़ी के खिलाफ है. इसके लिए हम कोचों के साथ मिलकर रणनीति बनाएंगे. वह एक अच्छे मुक्केबाज हैं और मैं उनके खिलाफ रिंग में उतरने को लेकर उत्साहित हूं."

इन तीन मुक्केबाजों के अलावा एशियाई चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता कविंदर सिंह बिष्ट (57 किग्रा) भी क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे. पांचवीं सीड कविंदर ने फिनलैंड के अर्सलान खाटीव को 3-2 से हराकर लगातार दूसरी बार क्वार्टर फाइनल में कदम रखा. ये चारों भारतीय अब पदक पक्का करने से एक जीत दूर हैं.
(इनपुट आईएएनएस)