Badminton: ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भारत को लगा बड़ा झटका, पीवी सिंधु हारीं

ओलंपिक और वर्ल्ड चैंपियनशिप की सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु को चैंपियनशिप के पहले ही हार का सामना करना पड़ा. 

Badminton: ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भारत को लगा बड़ा झटका, पीवी सिंधु हारीं
पीवी सिंधु ने 81 मिनट तक कड़ा संघर्ष किया. उन्होंने आठ मैच प्वाइंट भी बचाए, लेकिन हार नहीं टाल सकीं. (फोटो: IANS)

बर्मिंघम: भारत को ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के पहले दिन बड़ा झटका लगा है. भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु महिला सिंगल्स के पहले ही दौर में दक्षिण कोरिया की सुंग जी ह्युन से हार गईं. वहीं, पुरुष सिंगल्स में भारत के ही बीसाई प्रणीत ने हमवतन एचएस प्रणय को करीबी मुकाबले में हराया. 2017 सिंगापुर ओपन चैंपियन बीसाई प्रणीत ने यह मुकाबला 21-19 21-19 से जीता. एचएस प्रणय ने 52 मिनट तक कड़ा संघर्ष किया, लेकिन हार नहीं टाल सके. 

सुंग जी ह्युन के खिलाफ पिछले तीन मुकाबलों में शिकस्त झेलने वाली पीवी सिंधु को दूसरे और तीसरे गेम में आठ मैच प्वाइंट बचाने के बावजूद हार गईं. सुंग जी ह्युन ने पीवी सिंधु को बुधवार (5 मार्च) को खेले गए मुकाबले में 21-16, 20-22, 21-18 से हराया. दोनों खिलाड़ियों के बीच यह मुकाबला 81 मिनट तक चला. 

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया; 500वीं जीत पर कितना भी इतरा लें, हार के मामले में भी है शर्मनाक रिकॉर्ड

पांचवीं वरीयता प्राप्त पीवी सिंधु इस मैच में सुंग जी के खिलाफ आठ जीत और छह हार के रिकार्ड के साथ उतरीं थी. सुंग जी ह्यून ने इस मुकाबले के बाद अपनी जीत की संख्या सात पहुंचा दी है. सुंग जी 10 लाख डॉलर इनामी राशि वाली इस चैंपियनशिप के अगले दौर में हॉन्गकॉन्ग की च्युंग एनगान यी से भिड़ेंगी. 

पीवी सिंधु ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि मुझे शुरू में उसे बड़ी बढ़त नहीं लेने देनी चाहिए थी. मैंने शुरू में ही काफी अंक दे दिए और इसकी भरपाई करना मुश्किल था. संभवत: भाग्य ने भी मेरा साथ नहीं दिया क्योंकि मेरे स्मैश नेट पर लग रहे थे. मैं बाहर मार रही थी लेकिन कुल मिलाकर यह अच्छा मैच था और वह अच्छा खेली.’ 

यह भी पढ़ें: मनप्रीत सिंह करेंगे अजलन शाह कप में टीम इंडिया की अगुवाई, सुरेंदर बने उप कप्तान

महिला डबल्स में मेघना जक्कमपुडी और पूर्विशा एस राम की जोड़ी को कड़ी चुनौती पेश करने के बावजूद एकतेरिना बोलतोवा और एलिन देवेलतोवा की रूस की जोड़ी से हार गईं. भारतीय जोड़ी को रूसी जोड़ी के खिलाफ 21-18, 12-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा. यह मुकाबला 47 मिनट तक चला.