Asian games 2018: प्रॉस्टिट्यूशन स्कैंडल में शामिल जापान के 4 खिलाड़ी बाहर निकाले गए

जापान के 4 बास्केटबॉलर नेशनल जर्सी में रेडलाइट एरिया में घूम रहे थे. चारों को स्वदेश भेजा गया.

Asian games 2018: प्रॉस्टिट्यूशन स्कैंडल में शामिल जापान के 4 खिलाड़ी बाहर निकाले गए
एशियन गेम्स के उद्घाटन समारोह का फाइल फोटो

जकार्ता: जापान को 18वें एशियन गेम्स में हिस्सा लेने आए अपने 4 खिलाड़ियों की वजह से शर्मसार होना पड़ा है. बास्केटबॉल के चार खिलाड़ी युया नागायोशी, ताकुया हाशिमोतो, ताकुमा सातो और केइता इमामुरा प्रॉस्टिट्यूशन स्कैंडल में घिर गए हैं. इसके बाद उन्हें स्वदेश भेज दिया गया है. जापानी ओलंपिक कमेटी (जेओसी) ने अपने खिलाड़ियों की हरकत के लिए माफी भी मांगी है.

 

नेशनल जर्सी में रेडलाइट एरिया में घूम रहे थे
जापान के चीफ डि मिशन यासुहीरो यामाशिता ने बताया, 'नागायोशी, हाशिमोतो, ताकुमा और इमामुरा पिछले हफ्ते खेल गांव में डिनर करने के बाद नेशनल जर्सी में बाहर गए थे. वहां वे सड़क पर एक दलाल के संपर्क में आ गए. इसके बाद चारों खिलाड़ी वेश्यावृत्ति के लिए कुख्यात रेडलाइट एरिया में गए. वहां वे महिलाओं के साथ होटल में जाने को तैयार हो गए. वे इसके बदले महिलाओं को पैसे देने के लिए भी तैयार थे.'
 

 

बास्केबॉल प्रमुख ने कहा- हमें माफ कर दें
जापानी बास्केटबॉल के प्रमुख युको मित्सुया ने कहा, 'मैं जापान की जनता और उन सभी लोगों से माफी मांगता हूं, जिन्होंने बास्केटबॉल को आगे बढ़ाने में हमारी मदद की है. अभी उन चारों खिलाड़ियों को जापान वापस भेज दिया गया है. हम मामले की पड़ताल कर रहे हैं. आगे की कार्रवाई इसके बाद की जाएगी. हमें यह देखना होगा कि भविष्य में ऐसी घटना ना हो.'

2014 में चोरी करते पकड़ा गया था जापानी एथलीट
जापान को लगातार दूसरे एशियन गेम्स में अपने खिलाड़ियों की हरकत के कारण शर्मसार होना पड़ा है. इससे पहले 2014 में इंचियोन में हुए एशियन गेम्स में जापान का तैराक नोया तोमिता पत्रकार का कैमरा चुराते हुए पकड़ा गया था. सीसीटीवी पर चोरी करते देखे जाने के बाद तोमिता को एशियन गेम्स से बाहर कर दिया गया था.