ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर एडिलेड डे-नाइट टेस्ट सीरीज जीती

शान मार्श की धयपूर्ण बल्लेबाजी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन-रात्रि टेस्ट क्रिकेट मैच में आज (रविवार) यहां तीसरे दिन ही न्यूजीलैंड पर तीन विकेट से रोमांचक जीत दर्ज करके तीन मैचों की श्रृंखला 2-0 से अपने नाम की। ऑस्ट्रेलिया के सामने 187 रन का लक्ष्य था लेकिन उसके बल्लेबाजों को एक-एक रन के लिये जूझना पड़ा। डेविड वार्नर (35) की पारी के बावजूद ऑस्ट्रेलिया एक समय तीन विकेट पर 66 रन बनाकर जूझ रहा था लेकिन इस मैच से टीम में वापसी करने वाले शान मार्श (49) ने एडम वोगेस (28) के साथ चौथे विकेट के लिये 49 और अपने छोटे भाई मिशेल मार्श (28) के साथ छठे विकेट के लिये 46 रन की दो महत्वपूर्ण साझेदारियां निभायी जिससे ऑस्ट्रेलिया ने सात विकेट पर 187 रन बनाकर जीत दर्ज की। 

ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर एडिलेड डे-नाइट टेस्ट सीरीज जीती

एडिलेड: शान मार्श की धयपूर्ण बल्लेबाजी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन-रात्रि टेस्ट क्रिकेट मैच में आज (रविवार) यहां तीसरे दिन ही न्यूजीलैंड पर तीन विकेट से रोमांचक जीत दर्ज करके तीन मैचों की श्रृंखला 2-0 से अपने नाम की। ऑस्ट्रेलिया के सामने 187 रन का लक्ष्य था लेकिन उसके बल्लेबाजों को एक-एक रन के लिये जूझना पड़ा। डेविड वार्नर (35) की पारी के बावजूद ऑस्ट्रेलिया एक समय तीन विकेट पर 66 रन बनाकर जूझ रहा था लेकिन इस मैच से टीम में वापसी करने वाले शान मार्श (49) ने एडम वोगेस (28) के साथ चौथे विकेट के लिये 49 और अपने छोटे भाई मिशेल मार्श (28) के साथ छठे विकेट के लिये 46 रन की दो महत्वपूर्ण साझेदारियां निभायी जिससे ऑस्ट्रेलिया ने सात विकेट पर 187 रन बनाकर जीत दर्ज की। 

इससे पहले न्यूजीलैंड की टीम अपनी दूसरी पारी में 208 रन पर ऑउट हो गयी थी। तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने चोटिल मिशेल स्टार्क की अनुपस्थिति में ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण की अगुवाई की और 24 . 5 ओवर में 70 रन देकर छह विकेट लिये। ऑस्ट्रेलिया ने इस तरह से तीन मैचों की श्रृंखला 2-0 से जीतकर न्यूजीलैंड के 2013 से कोई श्रृंखला नहीं गंवाने के अभियान पर रोक लगा दी। उसने 2013 से पिछली आठ श्रृंखलाएं नहीं गंवायी थी। एडिलेड ओवल में पिछले 64 साल में पहली बार कोई टेस्ट मैच तीन दिन के अंदर समाप्त हुआ है। इससे पहले जब तीन दिन में मैच समाप्त हुआ था तब वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हराया था। 

ऑस्ट्रेलिया जब लक्ष्य का पीछा करने के लिये उतरा तो उसने नियमित अंतराल में विकेट गंवाये। छठे ओवर में पहला विकेट गिरा जब ट्रेंट बोल्ट ने जो बर्न्‍स को पगबाधा ऑउट किया लेकिन पांच ओवर बाद डग ब्रेसवेल की गेंद पर मिशेल सैंटनर ने स्टीवन स्मिथ (14) का कैच छोड़ा।