Australian Open: 21 साल की सोफिया केनिन बनीं चैंपियन, स्पेन का सपना टूटा

Australian Open 2020: 14वीं वरीयता प्राप्त अमेरिका की सोफिया केनिन ने ऑस्ट्रेलियन ओपन का महिला सिंगल्स का खिताब जीत लिया है.

Australian Open: 21 साल की सोफिया केनिन बनीं चैंपियन, स्पेन का सपना टूटा
सोफिया केनिन ने 21 साल की उम्र में पहला ग्रैंडस्लैम खिताब जीता. (फोटो: PTI)

मेलबर्न: 21 साल की सोफिया केनिन ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open 2020) की नई चैंपियन बन गई हैं. अमेरिका की इस खिलाड़ी ने साल का पहला गैंडस्लैम टूर्नामेंट जीत लिया है. सोफिया केनिन (Sofia Kenin) ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में स्पेन की गार्बिने मुगुरुजा (Garbine Muguruza) को हराकर खिताब पर कब्जा किया. यह उनके करियर का पहला ग्रैंडस्लैम खिताब है. 

ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) के महिला सिंगल्स का फाइनल शनिवार को मेलबर्न में खेला गया. इसमें 14वीं वरीयता प्राप्त सोफिया केनिन का मुकाबला गैरवरीयता प्राप्त गार्बिने मुगुरुजा के साथ हुआ. दोनों ही खिलाड़ी पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थीं. दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली. 

यह भी पढ़ें: U-19 विश्व कप: फाइनल के लिए होगा सबसे बड़ा मुकाबला, भारत vs पाकिस्तान

मैच का पहला सेट पूर्व नंबर-1 गार्बिने मुगुरुजा ने जीता. लेकिन वे अगले दो सेट में अपनी लय बरकरार नहीं रख सकीं. दूसरी ओर, सोफिया केनिन ने जबरदस्त वापसी करते हुए ना सिर्फ अगले दो सेट जीते, बल्कि मैच भी अपने नाम कर लिया. उन्होंने यह मुकाबला 4-6, 6-6-2, 6-2 से जीता. सोफिया को खिताबी मुकाबला जीतने के लिए दो घंटे तीन मिनट तक संघर्ष करना पड़ा. 

यह भी पढ़ें: मोहम्मद शमी की बेटी ने खास अंदाज में मनाई वसंत पंचमी, आप भी देखें खूबसूरत फोटो

सोफिया केनिन 2002 के बाद यह खिताब जीतने वाली सबसे कम उम्र की अमिरकी महिला खिलाड़ी हैं. उनसे पहले 2002 में जब सेरेना विलियम्स ने यह खिताब जीता था, तब उनकी उम्र 20 साल सात महीने की थी. 1998 में जन्मी सोफिया 2017 में ही प्रोफेशनल खिलाड़ी बनी हैं. 

 

26 साल की गार्बिने मुगुरुजा की हार के साथ ना सिर्फ उनका, बल्कि स्पेन का भी सपना टूट गया. ऑस्ट्रेलियन ओपन के इतिहास में स्पेन के एक भी खिलाड़ी ने महिला सिंगल्स का खिताब नहीं जीता है. मुगुरुजा के पास यह अनचाहा रिकॉर्ड तोड़ने का मौका था. उनके पास ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने वाली पहली स्पेनिश महिला बनने का मौका था, लेकिन वे इसे गंवा बैठीं. 

यह भी पढ़ें: Pakistan: दानिश कनेरिया ने कहा- कई लोगों ने मेरा धर्म बदलवाने की कोशिश की, लेकिन...

गार्बिने मुगुरुजा ऑस्ट्रेलियन ओपन के सिंगल्स फाइनल में पहुंचने वाली तीसरी स्पेनिश खिलाड़ी हैं. उनसे पहले अरांचा सांचेज विकारियो (Arantxa Sanchez Vicario) और कोंचिता मार्तिनेज (Conchita Martinez) भी ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में पहुंची हैं. हालांकि, इन तीनों ही खिताबी जीत से दूर रह गईं. अरांचा सांचेज विकारियो 1994 और 1995 में फाइनल हार गई थीं. कोंचिता मार्तिनेज को 1998 में हार का सामना करना पड़ा था. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.