Australian Open: फेडरर ने बचाए 7 मैच प्वाइंट, फिर बोले- चमत्कार पर भरोसा है...

Australian Open 2020: स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमी फाइनल में प्रवेश कर लिया है. 

Australian Open: फेडरर ने बचाए 7 मैच प्वाइंट, फिर बोले- चमत्कार पर भरोसा है...

मेलबर्न: आपको यकीन हो या ना हो, लेकिन यह सच है कि दुनिया का सबसे बड़ा टेनिस खिलाड़ी चमत्कारों पर भरोसा करता है. और अगर आप खेलप्रेमी हैं तो मैदान पर कई बार चमत्कार होते देखा होगा. साल के पहले ग्रैंडस्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open 2020) में भी मंगलवार को ऐसा ही एक परिणाम आया, जिसे रोजर फेडरर (Roger Federer) चमत्कार से कम नहीं मानते. ‘स्विस किंग’ के नाम से मशहूर यह खिलाड़ी ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर फाइनल में लगातार पिछड़ा, लेकिन उम्मीद नहीं छोड़ी. उन्होंने सात मैच प्वाइंट भी बचाए और आखिर में विजेता बनकर कोर्ट से लौटे. 

स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ने ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. उन्होंने कड़े मुकाबले में अमेरिका के टेनिस सैंडग्रेन (Tennys Sandgren) को हराया. तीसरी वरीयता प्राप्त फेडरर ने यह मैच 6-3, 2-6, 2-6, 7-6(8), 6-3 से जीता. यह मुकाबला साढ़े तीन घंटे चला. फेडरर छह बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत चुके हैं. 

यह भी देखें: INDvsNZ: कोहली और पंत ने जिम में किए गजब के स्टंट, VIDEO देख हैरान हुए फैन

अगर आप स्कोर और टाइमिंग से मैच की कल्पना करेंगे तो शायद गलती कर बैठेंगे. स्कोर के मुताबिक सिर्फ चौथे सेट में ही कड़ा मुकाबला हुआ. लेकिन ऐसा नहीं है. जिन लोगों ने यह मैच देखा, वे जानते हैं कि 28 साल के अमेरिकी खिलाड़ी ने स्विस किंग को किस कदर संघर्ष कराया. 

खुद रोजर फेडरर ने माना कि यह मुकाबला उनके लिए बेहद कठिन था. वे चमत्कार की उम्मीद लगाए बैठे थे कि सैंडग्रेन कुछ गलती कर बैठें, ताकि उन्हें वापसी करने का मौका मिल जाए. इत्तफाक से ऐसा ही हुआ और फेडरर को मैच में संजीवनी मिल गई. 

20 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके फेडरर ने मैच के बाद कहा, ‘कभी-कभी आपको भाग्यशाली होना होता है. मैं सिर्फ उम्मीद कर रहा था कि वे कोई जबरदस्त स्मैश या विनर नहीं लगाएं. ऐसा करने की बजाय अगर वे एक-दो (मैच प्वाइंट) गंवा दें तो पता नहीं आगे क्या हो जाए. मेरे ख्याल से मैं आज काफी खुशकिस्मत रहा.’

यह भी देखें: VIDEO: MS धोनी को मिस कर रही है टीम इंडिया, बस में खाली रहती है सीट

रोजर फेडरर ने कहा, ‘जब मैच खेला जा रहा था तो मैं अच्छा महसूस कर रहा था. मैं सिर्फ अपना खेल खेल रहा था. मैं चमत्कारों पर यकीन करता हूं. कभी भी बारिश हो सकती है या कुछ और... इसलिए उसे (विरोधी) को मैच खत्म करने दो और आज वे ऐसा नहीं कर सके. मैं मैच जीतकर यहां खड़ा हूं और बेहद खुश हूं.’ फेडरर का क्वार्टर फाइनल में नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) और मिलोस राओनिक (Milos Raonic) के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता से मुकाबा होगा. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.