close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बैडमिंटन: जापान ओपन में भारतीय चुनौती खत्म, प्रणीत सेमीफाइनल में हारे

जापान ओपन में बी साइ प्रणीत के हारने से टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई. पीवि सिंधु, किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणाय पहले ही हार कर बाहर हो चुके थे.

बैडमिंटन: जापान ओपन में भारतीय चुनौती खत्म, प्रणीत सेमीफाइनल में हारे
बी साई प्रणीत ने सेमीफाइल तक भारतीय चुनौती को जापान ओपन में जिंदा रखा. (फोटो :IANS)

टोक्यो: भारत के बी.साई प्रणीत (B Sai Praneeth) को यहां जारी जापान ओपन के पुरुष एकल वर्ग के सेमीफाइनल में शनिवार को वर्ल्ड नंबर-1 केंटो मोमोटा के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा है. प्रणीत की हार के साथ ही प्रतियोगिता में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई है. इससे पहले पीवी सिंधु को भी प्रतियोगिता की महिलाओं के एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में हार कर बाहर पड़ा था. जापान की अकाने यामागुची ने सिंधु को सीधे सेटों हराकर बाहर कर दिया था. 

 मोमोटा ने प्रणीत को सीधे सेटों में 21-18, 21-12 से पराजित किरते हुए टूर्नामेंट से बाहर कर दिया. यह मुकाबला 45 मिनट तक चला. मोमोटा के खिलाफ भारतीय खिलाड़ी की शुरुआत अच्छी रही और उसने 3-1 की बढ़त बना ली. हालांकि, मोमोटा ने वापसी की और 11-8 से आगे हो गए. प्रणीत ने अपने खेल को बेहतर करने का प्रयास किया, लेकिन वह वापसी करने में कामयाब नहीं हो पाए और 23 मिनट में गेम हारकर मुकाबले में पिछड़ गए. 

यह भी पढ़ें: PKL 2019: गुजरात फॉर्च्यूनजायंट्स ने यूपी योद्धा को दी तगड़ी मात, प्वाइंट टेबल में टॉप पर कायम

दूसरे गेम में भी टॉप प्रणीत शुरुआत में 9-6 से आगे थे, लेकिन टॉप सीड जापानी खिलाड़ी ने वापसी की और 12-9 की बढ़त बना ली. मोमोटा ने इसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा और 22 मिनट में गेम जीतते हुए फाइनल में जगह बना ली. क्वार्टर फाइनल में प्रणीत ने इंडोनेशिया के टॉमी सुगिआटरे को हराया था.  प्रणीत ने सुगिआटरे को सीधे गेमों में 21-12, 21-15 से पराजित किया था. प्रणीतने यह मैच केवल 36 मिनट में ही अपने नाम किया था. फाइनल में मोमोटा का समाना रविवार को जान ओ जोर्गेन्सन या जानाथन क्रिस्टी से होगा. 

 यामागुची ने पीवी सिंधु को 21-18, 21,15 से पराजित कर क्वार्टरफाइनल से ही बाहर कर दिया था.  दोनों खिलाड़ियों के बीच मुकाबला 51 मिनट तक चला था. पीवी सिंधु को इससे पहले इंडोनेशिया ओपन के फाइनल में भी यागामुची से हार का सामना करना पड़ा था. सिंधु के अलावा किदांबी श्रीकांत इस प्रतियोगिता के पहले दौर में ही बाहर हो गए थे. श्रीकांत को  एच.एस प्रणॉय ने 13-21, 21-11, 22-20 से हराया था. इसके बाद अगले दौर में  प्रणॉय को डेनमार्क के रासमस गेमके के खिलाफ 48 मिनट तक चले मुकाबले में 9-21, 15-21 से हार का सामना करना पड़ा था. 
(इनपुट आईएएनएस)