Badminton: लक्ष्य सेन करेंगे विश्व जूनियर चैंपियनशिप में भारतीय टीम को लीड

विश्व जूनियर रैंकिंग में चौथे नंबर पर काबिज लक्ष्य से भारत को काफी उम्मीदें हैं. टूर्नामेंट में 41 टीमें हिस्सा ले रही हैं और इन्हें पांच-पांच टीमों के आठ ग्रुप में बांटा गया है.

Badminton: लक्ष्य सेन करेंगे विश्व जूनियर चैंपियनशिप में भारतीय टीम को लीड
लक्षय सेन (साभार - ट्विटर/@BAI_Media )

नई दिल्ली: एशियाई जूनियर चैंपियन लक्ष्य सेन सोमवार से कनाडा के मार्कहैम में शुरू हो रही बीडब्ल्यूएफ विश्व जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारतीय टीम की अगुआई करेंगे. इस 14 दिवसीय प्रतियोगिता की शुरुआत टीम स्पर्धा के साथ होगी और यह 10 नवंबर तक चलेगी. इसके बाद व्यक्तिगत स्पर्धाएं 11 से 18 नवंबर तक होंगी.

भारत की 23 सदस्यीय टीम को, विश्व जूनियर रैंकिंग में चौथे नंबर पर काबिज लक्ष्य से काफी उम्मीदें हैं. टीम को आशा है कि वर्ष 2000 में मिश्रित टीम स्पर्धा शुरू होने के बाद लक्ष्य की मौजूदगी में भारत के पास अपना पहला मेडल जीतने का मौका है. गत चैंपियन चीन को शीर्ष वरीयता दी गई है. इंडोनेशिया की वरीयता दूसरी है, जबकि दक्षिण कोरिया और इंडोनेशिया को संयुक्त तीसरी वरीयता मिली है.

भारत को मिली ग्रुप ई में जगह
भारत को पांचवीं वरीयता दी गई है और उसे ग्रुप ई में अल्जीरिया, कीनिया, श्रीलंका और फेरो आइलैंड के साथ रखा गया है और उसके पास क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने का अच्छा मौका है. कनाडा में होने वाली इस विश्व प्रतियोगिता में लड़कों के वर्ग के किरन जार्ज, प्रियांशु राजावत, अलाप मिश्रा जबकि लड़कियों के वर्ग में मालविका बंसोड़ और गायत्री गोपीचंद जैसी खिलाड़ियों के पास खुद को साबित करने का अच्छा मौका है.

4 तारीख को BAI ने ये खबर ट्विटर पर शेयर की

टूर्नामेंट की संरचना
टूर्नामेंट में 41 टीमें हिस्सा ले रही हैं और इन्हें पांच-पांच टीमों के आठ ग्रुप में बांटा गया है. ग्रुप मैच राउंड रोबिन आधार पर खेले जाएंगे और शीर्ष पर रहने वाली टीम चरण दो में जगह बनाएगी जो नाकआउट दौर है. जूनियर विश्व कप में भारत का अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2008 में है जब साइना नेहवाल ने एकमात्र गोल्ड मेडल जीता था.

दुनिया के खेलों के मानचित्र पर भारत के नक्श कहीं धुंधले तो कहीं उजले नजर आते हैं. लक्ष्य सेन ने पिछले दिनों बैडमिंटन की दुनिया में भारत का नाम 53 बरस के बाद एक बार फिर रौशन कर दिया था, जब उसने एशियन जूनियर चैंपियनशिप के पुरूष वर्ग में गोल्ड मेडल जीता.

टीम इस प्रकार है 
लड़के: लक्ष्य सेन, किरन जार्ज, अलाप मिश्रा, प्रियांशु राजावत, ध्रुव कपिला, जी कृष्ण प्रसाद, के मनजीत सिंह, के डिंकू सिंह, साई कृष्ण साई कुमार, पी विष्णुवर्धन गौड़, नवनीत बोक्का और अक्षन शेट्टी. लड़कियां: मालविका बंसोड़, पी गायत्री गोपीचंद, पूर्वी भावे, साहिति बांदी, आर तनुश्री, अदिति भट, सृष्टि जुपाडी और राशि लांबे.