कैंसर के इलाज के बाद ली चोंग चिकित्सकों की सलाह से शुरू करेंगे प्रैक्टिस

ओलंपिक में तीन बार के सिल्वर मेडल विजेता इस खिलाड़ी को शुरुआती चरण में ही नाक के कैंसर का पता चल गया था, जिसका इलाज ताइवान में प्रोटोन थेरेपी और कीमोथेरेपी से हो रहा है. 

कैंसर के इलाज के बाद ली चोंग चिकित्सकों की सलाह से शुरू करेंगे प्रैक्टिस
बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग वेई को नाक का कैंसर (फाइल फोटो)

कुआलालंपुर : मलेशिया के दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग वेई नाक के कैंसर का इलाज करने वाले ताइवान के चिकित्सकों से सलाह लेने के बाद ही अभ्यास शुरू करेंगे. सोमवार को मिली रिपोर्ट के मुताबिक वह अगले महीने तक कोर्ट में वापसी नहीं करेंगे. इससे पहले मलेशिया के बैडमिंटन प्रमुख ने कहा था कि ली अभ्यास के लिए जल्द ही वापसी करने वाले है लेकिन 36 साल के इस खिलाड़ी ने कहा कि उन्होंने अभी विशेषज्ञों से राय नहीं ली है.

ओलंपिक में तीन बार के सिल्वर मेडल विजेता इस खिलाड़ी को शुरुआती चरण में ही नाक के कैंसर का पता चल गया था, जिसका इलाज ताइवान में प्रोटोन थेरेपी और कीमोथेरेपी से हो रहा है. 

ली ने कहा, ‘‘ मैं इस महीने के आखिर में ताइवान जाकर चिकित्सकों की सलाह लेने के बाद फैसला करूंगा कि क्या करना है. मैं उनसे लगातार संपर्क में हूं. उन्होंने मुझे जल्दबाजी करने से मना किया है क्योंकि यह चोट नहीं है. इससे उबरने में समय लगता है.’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा लक्ष्य ऑल इंग्लैंड से वापसी करने का है. लेकिन मैं इस बात को लेकर आश्चस्त नहीं हूं कि ऐसा कर पाऊंगा या नहीं.’’ बता दें कि हाल ही में मलेशिया के दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग वेई ने वादा किया था कि वह कैंसर को पछाड़कर बैडमिंटन कोर्ट पर वापसी करेंगे. 

ली ने कहा था कि वह इस खेल से बेहद प्यार करते हैं, लेकिन अपने स्वास्थ्य के साथ समझौता नहीं कर सकते. उन्होंने कहा था, "मुझे इस खेल से प्यार है और मैं जल्द ही वापसी करना चाहता हूं. मैं आगामी टूर्नामेंटो की तैयारी करना चाहता हूं. हालांकि, यह मेरे स्वास्थ्य के सुधार पर निर्भर है." 

मलेशिया के 36 वर्षीय बैडमिंटन खिलाड़ी वर्तमान में सप्ताह में तीन बार प्रशिक्षण करते हैं. उन्होंने कहा कि अब भी उनका लक्ष्य 2020 ओलम्पिक खेलों में हिस्सा लेना है, ताकि वह करियर में प्रतिस्पर्धी बने रहें. इसके साथ ही ओलम्पिक खेलों में तीन बार पदक जीत चुके ली ने अगले साल ऑल इंग्लैंड ओपन में हिस्सा लेने की इच्छा जताई थी, जो मार्च में आयोजित होगा.