close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बैडमिंटन: साइना नेहवाल मलेशिया मास्टर्स के सेमीफाइनल में हारीं, मारिन ने दी मात

मलेशिया मास्टर्स के सेमीफाइनल में साइना नेहवाल के हारने से टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई. 

बैडमिंटन: साइना नेहवाल मलेशिया मास्टर्स के सेमीफाइनल में हारीं, मारिन ने दी मात
साइना ने पिछली बार 2017 में यह टूर्नामेंट जीता था. (फाइल फोटो)

कुआलालम्पुर:  साइना नेहवाल का मलेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट में प्रभावशाली अभियान शनिवार को यहां महिला एकल सेमीफाइनल में ओलंपिक और विश्व चैंपियन कारोलिना मारिन ने थाम दिया. इससे पहले 2017 में यहां खिताब जीतने वाली 28 वर्षीय साइना 40 मिनट तक चले मैच में स्पेन की चौथी वरीयता प्राप्त मारिन से 16-21, 13-21 से हार गयी. इस तरह से सत्र के पहले विश्व टूर सुपर 500 टूर्नामेंट में भारतीय अभियान भी समाप्त हो गया. 

इस मुकाबले से पहले इन दोनों के बीच का रिकार्ड 5-5 से बराबरी पर था. साइना ने अच्छी शुरुआत की और 5-2 से बढ़त बनायी लेकिन मारिन ने आक्रामक तेवर अपनाये और लगातार सात अंक बनाकर ब्रेक तक 11-9 से बढ़त हासिल कर ली. साइना इसके बाद स्कोर 14-14 से बराबरी किया लेकिन मारिन ने इसके बाद भारतीय खिलाड़ी को कोई मौका नहीं दिया और 20 मिनट में पहला गेम अपने नाम किया. 

मारिन दूसरे गेम में हावी होकर खेली. उन्होंने शुरू में ही 6-1 से बढ़त बनायी और फिर ब्रेक तक वह 11-6 से आगे थी. साइना ने वापसी की कोशिश की लेकिन मारिन ने उन्हें कोई मौका नहीं दिया. इस स्पेनिश खिलाड़ी को आखिर में आठ मैच प्वाइंट मिले. साइना ने एक मैच प्वाइंट बचाया लेकिन मारिन ने अगली बार सीधे रिटर्न पर मैच अपने नाम किया. 

पिछले 11 मुकाबलों में साइना पर मारिन की छठी जीत
हैदराबाद की 28 साल की इस खिलाड़ी ने 350,000 अमेरिकी डालर इनामी राशि वाले टूर्नामेंट को 2017 में जीता था और 2011 में उपविजेता रहीं थी. तीन बार की विश्व चैम्पियन कैरोलिना मारिन की साइना पर पिछले 11 मुकाबलों में छठी जीत है. साइना ने क्वार्टरफाइनल में पूर्व वर्ल्ड चैंपियन नोजोमी ओकुहारा को कड़े मुकाबले में शिकस्त देकर सेमीफाइनल में जगह पक्की की थी. सत्र के पहले सुपर 500 टूर्नामेंट में सातवीं वरीयता प्राप्त साइना ने शुक्रवार को 48 मिनट चले संघर्षपूर्ण मुकाबले को 21-18, 23-21 से अपने नाम किया था.

(इनपुट भाषा)