पहलवान बजरंग पूनिया और क्रिकेटर ऋषभ पंत चुने गए साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी
Advertisement
trendingNow1510488

पहलवान बजरंग पूनिया और क्रिकेटर ऋषभ पंत चुने गए साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और युवा निशानेबाज मनु भाकर को महिला वर्ग में वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया.

सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के गोल्ड मेडल विजेता पहलवान बजरंग पूनिया और भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को गुरुवार को दिल्ली खेल पत्रकार संघ (DSJA) के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के पुरस्कार से सम्मानित किया गया. भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और युवा निशानेबाज मनु भाकर को महिला वर्ग में वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया जबकि सिडनी ओलंपिक की ब्रॉन्ज मेडल विजेता भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी और द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता कुश्ती कोच राज सिंह को उपलब्धि पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

भारत के युवा निशानेबाजों को निखारने में अहम भूमिका निभाने वाले जसपाल राणा और पंत के बचपन के कोच तारक सिन्हा को सर्वश्रेष्ठ कोच का पुरस्कार दिया गया. राणा का पुरस्कार उनकी पत्नी और बेटी तथा तारक सिन्हा का पुरस्कार खुद ऋषभ ने ग्रहण किया.

मनु भाकर का पुरस्कार भी उनके पिता ने ग्रहण किया. मनु इस समय चीनी ताइपे में एशियाई एयर गन चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व कर रही हैं.

भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) के अध्यक्ष डा. नरेंद्र ध्रुव बत्रा, अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के मानद सदस्य राजा रणधीर सिंह, पूर्व हाकी कप्तान जफर इकबाल, जेके टायर मोटर स्पोर्टस के प्रमुख संजय शर्मा, पूर्व निशानेबाज मोराद अली खान और हाकी ओलंपियन हरबिंदर सिंह ने खिलाड़ियों को ये पुरस्कार प्रदान किए.

बजरंग ने पुरस्कार ग्रहण करने के बाद कहा कि उनका लक्ष्य 2020 के टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतना है. अभी तक कोई भी भारतीय पहलवान ओलंपिक में सोने का तमगा नहीं जीत पाया है. उन्होंने कहा, "इस पुरस्कार से मुझे और मेहनत करने की प्रेरणा मिलेगी. मैं ओलंपिक में  गोल्ड मेडल जीतने वाला पहला भारतीय पहलवान बनने की पूरी कोशिश करूंगा. अभी यही मेरा लक्ष्य है."

पंत ने कहा, "हम जैसे युवा खिलाड़ियों के लिए इस तरह के सम्मान काफी मायने रखते हैं. इससे निश्चित तौर पर मुझे बेहतर प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलेगी."

हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल बेंगलुरू में चल रहे राष्ट्रीय शिविर से अनुमति के साथ एक दिन का अवकाश लेकर यह पुरस्कार ग्रहण करने आई थीं. उन्होंने कहा, "हमारा भारत के लिए बेहतर प्रदर्शन करने पर हमेशा ध्यान केंद्रित रहता है. ऐसे पुरस्कारों से हमें सही दिशा में बढ़ने की प्रेरणा मिलती है."

पुरस्कार समारोह में दिविज शरण (टेनिस), मीनाक्षी पाहूजा ( चैनल तैराकी), अभिषेक वर्मा (तीरंदाजी), सीमा यादव (मैराथन) और दीक्षा डागर (गोल्फ) को विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

(इनपुट-आईएएनएस)

Trending news