Brazil Football के चीफ Sexual Harassment के मामले में फंसे, 30 दिनों के लिए निलंबित

रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) की जगह 82 वर्षीय एंटोनियो कार्लोस ननेस (Antonio Carlos Nunes) सीबीएफ (CBF) का अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालेंगे.

 Brazil Football के चीफ Sexual Harassment के मामले में फंसे, 30 दिनों के लिए निलंबित
रोजेरियो काबोक्लो (फाइल फोटो)

साओ पाउलो: ब्राजीली फुटबॉल कॉनफेडरेशन (Brazilian Football Confederation) के अध्यक्ष रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) को यौन उत्पीड़न (Sexual Harassment) के आरोपों के कारण 30 दिनों के लिए सस्पेंड कर दिया गया है.

बढ़ सकता है सस्पेंशन

सीबीएफ (CBF) ने रविवार को बयान में कहा कि नैतिक समिति (Ethics Commission) ने उसे रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) को अस्थायी रूप से सस्पेंड करने के फैसले से अवगत कराया है. समिति अभी आरोपों की जांच कर रही है और निलंबन को आगे बढ़ाया जा सकता है.

आरोपों से इनकार

रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) ने किसी भी तरह के गलत काम से इनकार किया है.  ग्लोबो ईस्पोर्ट वेबसाइट के मुताबिक उन पर एक पूर्व महिला कर्मचारी ने शुक्रवार को यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे. काबोक्लो के वकील ने शनिवार को कहा कि काबोक्लो एक मामले में अपनी बेगुनाही साबित करेंगे लेकिन इस बारे में उन्होंने डिटेल से नहीं बताया.

ब्राजील को मिली कोपा अमेरिका की मेजबानी

रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) की अगुवाई में ही ब्राजील (Brazil) ने पिछले हफ्ते ही कोपा अमेरिका (Copa America) की मेजबानी हासिल की थी जो 13 जून से शुरू होना है. अर्जेंटीना और कोलंबिया को संयुक्त मेजबानी से हटाए जाने के बाद ब्राजील को इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के आयोजन की जिम्मेदारी सौंपी गई थी.

एंटोनियो को मिली जिम्मेदार

रोजेरियो काबोक्लो (Rogerio Caboclo) की जगह 82 वर्षीय एंटोनियो कार्लोस ननेस (Antonio Carlos Nunes) अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालेंगे. ननेस ने इससे पहले काबोक्लो के पूर्ववर्ती मार्कोपोलो डेल नीरो (Marco Polo Del Nero) को फीफा (FIFA) द्वारा भ्रष्टाचार के लिए बैन किए जाने के कारण 2017 से 2019 तक यह पद संभाला था.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.