चाइना ओपन: 8 महीने बाद कोर्ट में लौटी कैरोलिना मारिन बनीं चैंपियन, केंटो ने भी जीता खिताब

गैरवरीयता प्राप्त कैरोलिना मारिन और शीर्ष वरीयता प्राप्त केंटो मोमोता दोनों ने ही पहला गेम हारने के बाद फाइनल मुकाबला जीता. 

चाइना ओपन: 8 महीने बाद कोर्ट में लौटी कैरोलिना मारिन बनीं चैंपियन, केंटो ने भी जीता खिताब
स्पेन की कैरोलिना मारिन मौजूदा ओलंपिक चैंपियन भी हैं. (फोटो: Reuters)

चांगझोऊ: चोट के कारण आठ महीने तक बैडमिंटन से दूर रहने वालीं ओलंपिक चैंपियन कैरोलिना मारिन (Carolina Marin) ने शानदार वापसी की है. उन्होंने वापसी के बाद अपने पहले ही टूर्नामेंट चाइना ओपन (China Open) में खिताबी जीत दर्ज की है. स्पेन की कैरोलिना मारिन ने रविवार को यह खिताब जीता. मारिन ने फाइनल मुकाबले में ताइवान की ताई जू यिंग को कड़े मुकाबले में 14-21, 21-17, 21-18 से हराया. 

स्पेनिश बैडमिंटन खिलाड़ी कैरोलिना मारिन और ताई जू यिंग के बीच रोमांचक फाइनल एक घंटे और पांच मिनट तक चला. मारिन के लिए फाइनल की शुरुआत अच्छी नहीं रही. वे पहले गेम में शुरुआत से ही पिछड़ गईं. ब्रेक के समय भी वे 8-11 से पीछे रहीं और पहला गेम हार गई. मारिन ने चोट के कारण विश्व चैंपियनशिप से नाम वापस ले लिया था. कोर्ट से लंबे समय तक दूर रहने के कारण वे बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप-20 से बाहर हो गई थीं. 

यह भी पढ़ें: गावस्कर, लक्ष्मण, लारा सबकी एक राय, ऋषभ पंत नंबर-4 के ‘लायक’ नहीं

गैरवरीयता प्राप्त कैरोलिना मारिन ने पहले गेम में हार के बाद दूसरे गेम में शानदार वापसी की. उन्होंने यह गेम जीतकर मुकाबला बराबरी पर ला खड़ा किया. निर्णायक गेम में भी मारिन ने दमदार प्रदर्शन किया. इससे पहले, शनिवार को हुए सेमीफाइनल में भी मारिन को जापान की सयाका ताकाहाशी के खिलाफ जीत दर्ज करने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी थी. 72 मिनट तक चले मुकाबले में मारिन ने 20-22, 21-13, 21-18 से जीत दर्ज की थी. 

पुरुष सिंगल्स का खिताब शीर्ष वरीयता प्राप्त जापान के केंटो मोमोता (Kento Momota) ने जीता. उन्होंने फाइनल में सातवीं वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया के एंथनी सिनिसुका गिनटिंग (Anthony Sinisuka Ginting) को हराया. टॉप सीड केंटो मोमोता ने फाइनल मुकाबला 19-21, 21-17, 21-19 से जीता. यह मुकाबला डेढ़ घंटे चला. इंडोनेशियाई खिलाड़ी ने क्वार्टर फाइनल में भारत के बी साई प्रणीत को हराया था.