B'day Special:वो 5 बातें जो रोहित शर्मा को दुनिया का बेहतरीन क्रिकेटर बनाती हैं

मौजूदा दौर में एक से एक बेहतरीन बल्लेबाज मौजूद हैं, लेकिन टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा जैसा हुनर किसी और क्रिकेटर में नहीं है.

B'day Special:वो 5 बातें जो रोहित शर्मा को दुनिया का बेहतरीन क्रिकेटर बनाती हैं

नई दिल्ली: टीम इंडिया की बल्लेबाजी की रीढ़ बन चुके रोहित शर्मा को यह तमगा भले ही टेस्ट क्रिकेट में नहीं मिल पाया हो, लेकिन वनडे और टी20 क्रिकेट में उन्हें सर्वकालिक महान क्रिकेटरों की सूची में शामिल करने से शायद ही कोई हिचकेगा। भले ही टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को टीम की हालिया सालों में मिली सफलताओं का श्रेय दिया जाता है, लेकिन सच ये है कि इस सफलता में यदि कोहली के साथ कोई सूत्रधार साबित हुआ है तो वो रोहित शर्मा ही हैं. रोहित को सर्वकालिक महान वनडे और टी20 क्रिकेटरों में क्यों शामिल माना जाए, इसके 5 कारण हम आपको गिना रहे हैं.

यह भी पढ़ें- B'day Special: बल्ले से धमाल मचाने वाले रोहित गेंदबाजी में भी बना चुके हैं ये रिकार्ड

1. साल दर साल रनों की बौछार

रोहित का यदि पिछले कुछ सालों का रिकार्ड उठाकर आप देखेंगे तो उनकी बल्लेबाजी में एक बेहतरीन स्थायित्व आपको दिखाई देगा. यही कारण है कि वे साल दर साल लगातार रनों की बौछार लगाते रहे हैं. वनडे क्रिकेट में रोहित ने 2017 से 2019 तक हर साल में 1000 से ज्यादा रन बनाए हैं. उनके खाते में 2017 के 21 मैच में 71.83 के औसत से 1293 रन, 2018 के 19 मैच में 73.57 के औसत से 1030 रन और 2019 के 28 मैच में 57.30 के औसत से 1490 रन शामिल हैं.

रोहित ने वर्ल्ड कप 2019 में जबरदस्त शतकों की बौछार भी दिखाई थी और वही टीम के खेवनहार साबित हुए थे. इसी तरह टी20 इंटरनेशनल में भी 2016 से 2019 तक 4 साल में रोहित ने अपने इस फार्मेट के कुल 2773 रनों में से 1766 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट करीब 155 रहा है और औसत 30 से ज्यादा दर्ज किया गया, जो टी-20 में बेहतरीन रहा है.

2. टीम का आधार बनने वाले ओपनर

पिछले 3 साल में रोहित शर्मा की बल्लेबाजी में आए स्थायित्व ने जहां उन्हें टीम के प्रदर्शन का आधार बिंदु साबित किया है, वहीं बल्लेबाजी में अपने अंदाज में गेंदबाजों की बखिया उधेड़कर बाद में आने वाले बल्लेबाजों के लिए राह को आसान बनाने का काम भी बखूबी किया है उन्होंने। यकीन न हो तो यह बात जान लीजिए कि अपने 29 वनडे शतक में से 18 रोहित ने इन्हीं 3 साल में बनाए हैं। उन्होंने 2017 में 6, फिर 2018 में 5 और 2019 में 7 वनडे शतक बनाए। इसमें 2016 में बनाए 2 शतक भी जोड़ लें तो पिछले 4 साल में 20 शतक उनके खाते में आए हैं। टी20 में भी उनके 4 में से 3 शतक और 21 में से 12 फिफ्टी पिछले 4 साल में ही आई हैं.

3. वनडे क्रिकेट में 2 दोहरे, टी20 में सबसे ज्यादा शतक

रोहित शर्मा दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं, जो वनडे क्रिकेट में 1 या 2 नहीं बल्कि पूरे 3 दोहरे शतक लगा चुके हैं. बता दूं कि दुनिया में बहुत सारे दिग्गज क्रिकेटर ऐसे रहे हैं, जो अपने पूरे करियर में टेस्ट क्रिकेट में दोहरा शतक नहीं लगा पाए. इससे रोहित शर्मा के कारनामे की अहमियत समझी जा सकती है कि वनडे क्रिकेट के 8 में से 3 दोहरे शतक और सबसे बड़ा स्कोर 264 रन (श्रीलंका के खिलाफ 13 नवंबर 2014 को कोलकाता में) भी उनके ही नाम पर है. टी20 इंटरनेशनल में भी वे 4 शतक बनाने वाले दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं.

4. गेंद को सफाई से बाउंड्री के पार पहुंचाने की क्षमता

रोहित शर्मा की बल्लेबाजी की खासियत उनकी गेंद को बिना किसी गलती के बाउंड्री के पार पहुंचाने की क्षमता है, जो उन्हें वनडे और टी-20 क्रिकेट का बेहद खतरनाक बल्लेबाज बना देती है. इस साल जनवरी में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले अपने आखिरी वनडे मैच में ही रोहित ने बंगलूरू के मैदान पर 128 गेंद में 116 रन की पारी खेलते हुए 6 छक्के और 8 चौके लगाए थे.

5. लंबी पारियां खेलने की प्रतिभा

क्रिकेट में वो बल्लेबाज टीम के लिए सबसे उपयोगी होता है, जो रन बनाने के साथ ही लंबे समय तक पिच पर रहता है. रोहित इस मायने में मास्टर क्लास बल्लेबाज हैं. उनके 3 दोहरे शतक और टी20 जैसे छोटे फार्मेट में भी 4 शतक इस बात को बखूबी साबित भी करते हैं. अपने 29 शतक में से 16 में उन्होंने 125 रन से ज्यादा की पारी खेली है और इसमें भी आधा दर्जन से ज्यादा पारियों में उन्होंने 150+ के स्कोर बनाए हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.