गेंदबाजों ने बल्लेबाजी में बनाए हैं ये 5 शानदार रिकॉर्ड्स, जानकार हैरान रह जाएंगे आप

क्रिकेट को अनिश्चिताओं का खेल कहा जाता है, यहां गेंदबाज भी बेल्लेबाजी में ऐसा कुछ कर जाते हैं जो हमेशा के लिए इतिहास बन जाता है.

गेंदबाजों ने बल्लेबाजी में बनाए हैं ये 5 शानदार रिकॉर्ड्स, जानकार हैरान रह जाएंगे आप
अजीत अगरकर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: क्रिकेट की दुनिया में एक से बढ़कर एक महारथी हुए हैं और आगे भी होते रहेंगे. वहीं बात करें गेंदबाजी की तो यहां ऐसे-ऐसे गेंदबाज हुए हैं जिन्होंने विपक्षी टीम के बल्लेबाजो की नाक में दम कर दिया. लेकिन कई बार इन्हीं गेंदबाजों ने अपनी विकेट आसानी से न देकर अपनी टीमों को मुश्किल घड़ियों से बाहर निकाला. कुछ गेंदबाजों ने मैदान पर बल्ले के साथ बड़े ही शानदार रिकॉर्ड बनाए, जिन्हें जानकर हर कोई उन पर गर्व करेगा. चलिए आपको बताते हैं इस लिस्ट में कौन-कौन से गेंदबाज शामिल है.

यह भी पढ़ें- इस क्रिकेटर को दिल दे बैठी थीं सुष्मिता सेन, पर ये प्रेम कहानी रह गई अधूरी

वसीम अकरम 
यहां लिस्ट में सबसे पहले बात करते हैं पाकिस्तानी तेज गेंदबाज वसीम अकरम (Wasim Akram) की. उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ साल 1996 में 257 रन बनाए थे. उस पारी के दौरान अकरम ने 12 छक्के जड़े थे. इसके अलावा वसीम अकरम ने सकलैन मुश्ताक के साथ मिलकर 313 रनों की साझेदारी की थी. आपको बता दें कि वसीम अकरम के द्वारा बनाया गया 257 रनों का आंकड़ा किसी भी 8वें नंबर के बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर है.  

एश्टन एगर 
ऑस्ट्रेलिया के एश्टन एगर (Ashton Agar) ने अपनी बल्लेबाजी का जलवा पहले ही मैच में दिखा दिया था जब इंग्लैंड के खिलाफ अपने डेब्यू टेस्ट में 98 रन जड़े थे. पहले ही मैच में किसी भी 11 वें नंबर पर खेलने वाले बल्लेबाज की तरफ से बनाया गया ये सबसे बड़ा स्कोर रहा.  एश्टन एगर ने अपनी बल्लेबाजी के कमाल से अपनी टीम का स्कोर 280 तक पहुंचाया था. इतना ही नहीं एगर ने आखिरी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का भी रिकॉर्ड अपने नाम पर दर्ज करवाया. ये कारनामा एगर ने फिलिप ह्यूज के साथ मिलकर किया था जहां दोनों ने मिलकर 163 रनों की साझेदारी की थी.

शेन वॉर्न 
महान लेग स्पिनर्स में शुमार शेन वॉर्न (Shane Warne) ने गेंद के साथ खूब कमाल दिखाया, वहीं उनके बल्ले में भी दम कम नहीं था. शेन वॉर्न के नाम टेस्ट क्रिकेट में 708 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज हैं, लेकिन इसके बावजूद वॉर्न ने कभी भी अपनी टीम को बल्ले के साथ निराश नहीं किया. हालांकि वॉर्न कभी शतक नहीं बना सके सके, उन्होंने 145 टेस्ट में 3,154 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया की हर जीत में महत्वपूर्ण योगदान दिया.

अजीत अगरकर 
भारत के गेंदबाज अजीत अगरकर(Ajit Agarkar) ने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में शतक लगाने का कारनामा किया था. वैसे अगरकर के नाम बल्लेबाजी में एक और कमाल का रिकॉर्ड दर्ज है. साल 2000 में अगरकर ने जिम्बाब्वे के खिलाफ राजकोट में 21 गेंदों  में अर्धशतक जड़ दिया था. इस मैच में अगरकर ने 268 के धमाकेदार स्ट्राइक रेट से 25 बॉल पर 67 रन बनाए थे जिसमें 4 छक्के और 7 चौके शामिल थे.

जेसन गिलेस्पी 
ऑस्ट्रेलिया के जेसन गिलेस्पी (Jason Gillespie) ने हमेशा ही अपनी गेंदबाजी से टीम को शानदार शुरुआत दी. लेकिन गिलेस्पी ने बल्ले से भी खूब कमाल दिखाया और कई बार ऑस्ट्रेलिया को मुश्किल से निकाला. उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ साल 2006 में चटगांव में 201 रनों की नाबाद पारी खेली थी जो किसी भी नाइटवॉचमैन द्वारा एक पारी में बनाए गए सबसे ज्यादा रन हैं. गिलेस्पी ने माइकल हसी के साथ 320 रनों की साझेदारी की थी और अपनी टीम को 581 के स्कोर तक पहुंचाया था.