एरोन फिंच ने विराट कोहली की शान में पढ़े कसीदे, तेंदुलकर और पोटिंग से की तुलना

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने अपनी शानदार बल्लेबाजी से न सिर्फ भारतीय, बल्कि दुनियाभर के क्रिकेट फैंस को अपना दीवाना बना लिया है.

एरोन फिंच ने विराट कोहली की शान में पढ़े कसीदे, तेंदुलकर और पोटिंग से की तुलना
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को पूरी दुनिया रन मशीन बुलाती है और वाकई में ये नाम उन पर पूरी तरह से फिट भी बैठता है क्योंकि कोहली ने क्रिकेट के हर प्रारूप में अपने शानदार प्रदर्शन के जरिए ही इस नाम को कमाया है. विराट की शानदार बल्लेबाजी ने भारतीय क्रिकेट टीम को एक नए मुकाम पर पहुंचा दिया है. विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलियन टीम को उन्हीं की धरती पर टेस्ट सीरीज में मात दी थी. कप्तानी के अलावा जब बात आती है उनकी बल्लेबाजी की तो विराट कोहली ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 50 से ज्यादा की औसत से रन बनाए हैं और इसी वजह से वो खेल के तीनों प्रारूपों की आईसीसी रैंकिंग में टॉप 10 बल्लेबाजों में शामिल हैं.

यह भी पढ़ें- विराट कोहली के हर टैटू के पीछे छिपा है कोई राज, क्या जानना चाहते हैं आप? 

अब किंग कोहली के इसी शानदार प्रदर्शन को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा कैप्टन एरोन फिंच (Aaron Finch) ने उनकी खूब तारीफ की है. हाल ही में फिंच ने एक टीवी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में कोहली की तुलना रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) और सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) जैसे महान खिलाड़ियों से की है.  फिंच ने कहा है, 'हर खिलाड़ी का एक खराब दौर आता है, मगर स्टीव स्मिथ (Steve Smith), रिकी पोंटिंग, विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर ऐसे क्रिकेटर हैं जिनका प्रदर्शन कभी भी लगातार 2 सीरीज में खराब नहीं रहा.'

ये तो हम सभी जानते हैं कि भारत में क्रिकेट को किसी धर्म की तरह पूजा जाता है, यहां इस खेल को लेकर लोगों में जितना जुनून देखने को मिलता है वो लाजवाब है. अपने पसंदीदा खिलाड़ी को लोग किसी भगवान की तरह पूजते हैं और उसे देखने के लिए स्टेडियम में किसी सैलाब की तरह उमड़ पड़ते हैं. वहीं इस मामले में फिंच का मानना है कि कोहली जिस अंदाज में ऐसे माहौल में खेलते हैं वो काबिल-ए-तारीफ है. इतना ही नहीं इस बातचीत के दौरान फिंच ने विराट की कप्तानी की भी तारीफ की. 

उन्होंने कहा, 'इंडिया के लिए खेलने का प्रेशर अलग और कप्तानी का प्रेशर अलग है, मगर विराट कोहली जिस अंदाज में दोनों पर काम कर रहे हैं वो तारीफ के काबिल है. एमएस धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी के बाद विराट ने इस भूमिका को बखूबी निभाया है. धोनी की कप्तानी के बाद लोगों की अपेक्षाएं बहुत ज्यादा थी जिन्हें उन्होंने पूरा किया. सबसे अहम बात है कि तीनों फॉर्मेट में विराट अच्छा खेलते हैं. ओडीआई क्रिकेट में बेस्ट साथ ही टेस्ट और टी20 में भी उसी कामयाबी को दोहराना काफी काबिलेतारीफ है.' 

इसके अलावा बॉल पर लार के इस्तेमाल पर बात करते हुए फिंच ने कहा, 'इस बारे में मैने इंग्लैंड या वेस्टइंडीज टीमों से बात नहीं की लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि आने वाले कुछ महीनों में खिलाड़ियों को इसकी भी आदत हो जाएगी और बॉल को चमकाने के लिए लार की जगह दूसरे विकल्प तलाश कर लिए जाएंगे.'