एडम गिलक्रिस्ट ने कहा, नो बॉल का फैसला लेने में समय नहीं लगेगा टीवी अंपायर को

एडम गिलक्रिस्ट ने कहा, नो बॉल का फैसला लेने में समय नहीं लगेगा टीवी अंपायर को

IPL: एडम गिलक्रिस्ट का कहना है कि थर्ड अंपायर को गेंद का रीप्ले हासिल करने में समय नहीं लगता इसलिए टीवी अंपयार नो बॉल का फैसला करने में ज्यादा समय नहीं लगाएंगे.

एडम गिलक्रिस्ट ने कहा, नो बॉल का फैसला लेने में समय नहीं लगेगा टीवी अंपायर को

नई दिल्ली: हाल ही में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को लेकर कुछ नियमों की समीक्षा की है. इनमें नो बॉल का नियम सबसे ज्यादा चर्चा में हैं. अब नए नियम के अऩुसार हर गेंद पर नो बॉल का फैसला एक अलग टीवी एंपायर करेगा. इस नियम के आने के बाद इस बात पर बहस शुरू हो गई है कि क्या इससे मैच का समय खराब होगा कि नहीं.  इस पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट (Adam Gilchrist) का कहना है कि इस नए नियम से कोई परेशानी नहीं होगा. 

इसमें नहीं लगेगा ज्यादा समय
गिली ने इस मुद्दे पर एक वेबसाइट को अपनी राय देते हुए कहा, "नहीं, मुझे नहीं लगता है कि यह मैच को धीमा करेगा. क्योंकि वह यह फौरन कर सकते हैं. मैं जानता हूं, मैं प्रसारण से जुड़ा हुआ हूं, आप पांच सेकंड में रीप्ले हासिल कर सकते हैं."

यह भी पढ़ें: मंधाना के रिकॉर्ड ने दिग्गजों को छोड़ा पीछे, भारतीयों में केवल धवन हैं उनसे आगे

पिछले सीजन में आई थीं नोबॉल की शिकायतें
गौरतलब है कि साल 2019 के आईपीएल में कई मैचों में फ्रंट फुट नोबाल को लेकर शिकायतें आई थीं. ऐसे गलत फैसलों से कुछ मैचों के नतीजों पर भी असर पड़ा था. खास तौर पर बेंगलुरू और मुंबई के बीच हुए मैच में यह गलत निर्णय विवाद की वजह बन गया था. 

मुश्किल होता है फील्ड अंपायरों के लिए फैसला लेना
गिलक्रिस्ट ने फील्ड अंपायरों को बचाव करते हुए कहा, "फील्ड अंपायर्स के लिए नो बॉल का फैसला करना काफी मुश्किल होता है. पहले वे नीचे देखते हैं, फिर उन्हें फौरन ऊपर देखना होता है. बेशक पिछले सीजन में वह नो बॉल थी. (मुंबई बेगंलुरू मैच में). 

लंबा खिंच सकता है अगला सीजन
आमतौर पर आईपीएल 45 दिनों में खत्म होता है. जिसमें ज्यादातर एक दिन में दो मैच होते हैं.  एक मैच चार बचे शुरू होता है, जबकि दूसरा मैच रात को 8 बजे शुरू होता है. बीसीसीआई के सूत्रों ने बताया, "हम शाम को और ज्यादा मैच कराना चाहते हैं. और दिन के मैचों को कम करना चाहते हैं इसके वजह से आईपीएल लंबे समय तक खेला जा सकता है. 

Trending news