ऑस्ट्रेलिया को मुश्किल के दिनों में मिला ‘चमकता हीरा’, भारत के खिलाफ करेगा डेब्यू

 India vs Australia: ऑस्ट्रेलिया की टीम न्यूजीलैंड और पाकिस्तान का सूपड़ा साफ करने के बाद इसी हफ्ते भारत दौरे पर आएगी. 

ऑस्ट्रेलिया को मुश्किल के दिनों में मिला ‘चमकता हीरा’, भारत के खिलाफ करेगा डेब्यू
ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम का फाइल फोटो.

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया की टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ क्लीन स्वीप करने के बाद भारत दौरे की तैयारी कर रही है. वह इसी हफ्ते भारत पहुंच जाएगी. ऑस्ट्रेलिया (Australia) को भारतीय दौरे पर तीन वनडे मैच खेलेंगी. इस सीरीज में एक ऐसा खिलाड़ी डेब्यू कर सकता है, जिसे ऑस्ट्रेलिया का चमकता सितारा कहा जा रहा है. खुद ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लेंगर (Justin Langer) उन्हें मुश्किल के दिनों की शानदार खोज करार देते हैं. लेंगर कहते हैं कि मार्नस ने जो किया है वह माइंड ब्लोइंग हैं. 

ऑस्ट्रेलिया की टीम के लिए 2019 का शुरुआती समय अच्छा नहीं रहा. उसे साल की शुरुआत में ही भारत से टेस्ट सीरीज में ऐतिहासिक हार का सामना करना पड़ा. जैसे-जैसे साल आगे बढ़ा, ऑस्ट्रेलिया का प्रदर्शन सुधरता चला गया. खासकर टेस्ट क्रिकेट में उसने गजब की वापसी की. ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड से एशेज सीरीज में ड्रॉ खेला. इसके बाद पाकिस्तान और न्यूजीलैंड का सूपड़ा साफ कर दिया. अब वह भारत दौरे पर आएगी. 

यह भी पढ़ें: INDvSL: भारत-श्रीलंका दूसरा टी20 मैच आज, 5 कारणों से देखना चाहिए यह मुकाबला

टेस्ट क्रिकेट में इस शानदार प्रदर्शन का सबसे ज्यादा श्रेय मार्नस लैबुशेन (Marnus Labuschagne) को जाता है. 25 साल के लैबुशेन 2019 में टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. वे पिछले पांच मैच में 896 रन बना चुके हैं. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने लैबुशेन को उनके प्रदर्शन का इनाम वनडे टीम में शामिल करके दिया. अब वे भारत दौरे पर आ रहे हैं. पूरी संभावना है कि उन्हें प्लेइंग इलेवन में भी जगह मिलेगी. लैबुशेन अब तक 14 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. लेकिन वनडे मैचों में उन्हें मौका नहीं मिला है.

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन (Tim Paine) कहते हैं, ‘जिस समय डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ पर बैन लगा था, उस वक्त ऑस्ट्रेलिया को एक अच्छे बल्लेबाज की शिद्दत से दरकार थी. उन मुश्किल के दिनों में हमने मार्नस लैबुशेन को मौका दिया और उन्होंने गजब का प्रदर्शन किया. ऑस्ट्रेलिया की वापसी करने में लैबुशेन की अहम भूमिका है.’