विश्व कप विजेता नेत्रहीन क्रिकेटरों को सम्मानित करेगा BCCI, फाइनल में पाकिस्तान को दी थी मात

विनोद राय ने कहा,‘‘उनका प्रदर्शन यादगार है. वो हमारी निगरानी में आ गए हैं. काम चल रहा है, लेकिन मैं अभी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं कर सकता.’’

विश्व कप विजेता नेत्रहीन क्रिकेटरों को सम्मानित करेगा BCCI, फाइनल में पाकिस्तान को दी थी मात
विश्व विजेता बनने के बाद कप के साथ नेत्रहीन भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी. (Twitter Photo)

कोलकाता: विश्व कप विजेता नेत्रहीन भारतीय क्रिकेट टीम को बीसीसीआई सम्मानित करेगा. प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ने शनिवार (27 जनवरी) को यह जानकारी दी. भारत ने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराकर दूसरी बार खिताब जीता. राय ने यहां इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के एक कार्यक्रम से इतर कहा,‘‘बीसीसीआई एक सप्ताह के भीतर घोषणा करेगा कि उन्हें कितनी रकम दी जाएगी. इसके अलावा नेत्रहीन क्रिकेट के विकास के लिए भी कदम उठाए जाएंगे.’’

उन्होंने कहा,‘‘उनका प्रदर्शन यादगार है. वो हमारी निगरानी में आ गए हैं. काम चल रहा है, लेकिन मैं अभी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं कर सकता.’’ उन्होंने कहा,‘‘उनके पास रोजगार नहीं है. मैंने सुना है कि कुछ खिलाड़ी खेलना छोड़कर ट्रेन में चिक्की बेचना शुरू करने की सोच रहे हैं.’’ उन्होंने यह भी बताया कि महिला क्रिकेटरों की एक समिति महिला आईपीएल की रूपरेखा तैयार कर रही है. 

भारत ने पाकिस्तान को हराकर बरकरार रखा था नेत्रहीन क्रिकेट विश्व कप खिताब 
सुनील रमेश के शानदार 93 रन से भारत ने बीते 20 जनवरी को शारजाह के रोमांचक फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को दो विकेट से हराकर नेत्रहीन क्रिकेट विश्व कप खिताब बरकरार रखा था. पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने बदर मुनीर के 57 रन, रियासत खान के 48 रन और कप्तान निसार अली के 47 रन के उपयोगी योगदान से 40 ओवर में आठ विकेट पर 307 रन का स्कोर खड़ा किया. भारत के लिए दीपक मलिक और रामबीर ने दो दो विकेट चटकाए जबकि सुनील रमेश ने एक विकेट झटका.

इसके बाद भारतीय टीम ने रमेश की 67 गेंद में 93 रन और कप्तान अजय रेड्डी की 60 गेंद में 62 रन की बेहतरीन पारी के बूते यह लक्ष्य एक ओवर रहते ही हासिल कर ट्रॉफी पर कब्जा जमाया. भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन में इसी प्रतिद्वंद्वी को हराकर 2014 में खिताब जीता था.

(इनपुट एजेंसी से भी)