close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टीम इंडिया की सुरक्षा का मामला: BCCI की ACU के प्रमुख ने मेजबान क्रिकेट संघों को चेतावनी

मोहाली टी20 में टीम इंडिया की सुरक्षा में कई खामियां पाई गई थीं. बीसीसीआई इस गंभीरता से ले रही है. 

टीम इंडिया की सुरक्षा का मामला: BCCI की ACU के प्रमुख ने मेजबान क्रिकेट संघों को चेतावनी
मोहली टी20 में सुरक्षा में कई खामियां दिखाई दी थीं. (फोटो : IANS)

नई दिल्ली: भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच चल रही टी20 सीरीज में टीम इंडिया (Team Inida) की सुरक्षा के मुद्दे पर बीसीसीआई  (BCCI) ने सख्ती का रुख अपनाया है. दोनों टीमों के बीच धर्मशाला टी20 पहले बारिश में धुलने के बाद जब टीम इंडिया 16 सितंबर को मोहाली में पहुंची थी तब चंडीगढ़ पुलिस ने सुरक्षा नहीं दी थी. इस मामले को बीसीसीआई (BCCI) की एंटी करप्शन यूनिट (ACU) ने गंभीरता से लिया है और चेतावनी दी है सुरक्षा में किसी तरह का कोई समझौता स्वीकार नहीं किया जाएगा.

यह बड़ी चूक हुई थी मोहाली में
चंडीगढ़ पुलिस ने मोहाली में भुगतान न किए जाने का हवाला देकर टीम इंडिया को सुरक्षा व्यवस्था करने से इनकार किया गया था. वहीं मोहली में पहले दिन टीम इंडिया को होटल की ओर से सुरक्षा मिली थी. उसके बाद दूसरे दिन चंडीगढ़ पुलिस ने सुरक्षा का मोर्चा संभाल लिया था एसीयू चीफ अजीत सिंह ने मेजबान क्रिकेट एसोसिएशन को चेतावनी दी है कि मैदान के अंदर और बाहर सुरक्षा में किसी भी तरह खामी बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

यह भी पढ़ें: VIDEO: अपनी ही धुन में खोए धवन पर रोहित ने किया कमेंट, फैंस ने ऐसे किया रिएक्ट

मेजबान संघों के भेजी गई चेतावनी
बोर्ड के एक अधिकारी के मुताबिक सभी मेजबान एसोसिएशन को एक ईमेल भेजा गया है, डजिसमें उन्हें ताकीद की गई है कि इस तरह की खामी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा क्योंकि इससे खतरनाक स्थिति पैदा हो सकती है. उन्होने कहा, "एसीयू चीफ अजीत सिंह ने सभी मेजबान एसोसिएशन को लिखकर स्पष्ट कर दिया है कि इस तरह की खामी भविष्य में सहन नहीं की जाएगी. सुरक्षा व्यवस्था का न होना एक बड़ा मुद्दा हो सकता है और इससे खतरनाक हालात भी बन सकते हैं क्योंकि हम सभी जानते हैं कि कई बार फैंस सुरक्षा घेरा तोड़कर अपने फेवरेट प्लेयर के पास जाने की कोशिश करते हैं."

सुरक्षा हालात की जानकारी मांगी
एसीयू प्रमुख ने एसोसिएशन से स्टेडियम के भीतर सुरक्षा का ब्योरा मांगा है जिससे मोहाली जैसे हालात न बने जहां दो फैन पिच तक पहुंचने में सफल हो गए थे. मेल में कहा गया है, "पिच में घुसपैठ रोकने के लिए सुरक्षाकर्मियों को बाउंड्री रोप और फेंस के बीच तैनात किया जाना चाहिए और उन्हें लॉन्ग ऑन, लॉन्ग ऑफ, डीप फाइन लेग, डीप थर्ड मैन, डीप मिड विकेट, और डीप कवर जैसी परंपरागत बाउंड्री फील्डिंग पोजीशन्स के पास भी तैनात किया जाना चाहिए."

दो बार मैदान में घुसे थे फैन
गौरतलब है कि मोहाली में हुए टी20 मैच में सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी के दौरान घुसपैठ  हुई थी. एक फैन उस समय मैदान पर घुस आया था जिसे सुरक्षाकर्मियों ने पीछा कर धर दबोचा और मैदान से बाहर ले गए. दूसरी बार जब विराट कोहली क्रीज पर थे, तब उनका एक फैन सुरक्षा घेरा तोड़ कर मैदान में घुसने में सफल हो गया था. यहां तक कि वह विराट से हाथ मिलाने में भी कामयाब हो गया था. विराट भी इस घटना क्रम से सकते में आ गए थे. 

पहले भी होती रही हैं ऐसी घटनाएं
इस तरह का घटनाएं पहली बार नहीं हो रही हैं. इससे पहले भी विराट और एमएस धोनी के फैंस सुरक्षा घेरा तोड़कर मैदान में घुसकर उनके पास आते रहे हैं. अब बीसीसीआई इस मामले को बहुत ही गंभीरता से ले रही है. एसीयू ने इस मामले में तत्काल प्रभाव से कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. 
(इनपुट एएनआई)