close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ब्रिटिश अखबार ने छापा बेन स्टोक्स के सौतेले पिता से जुड़ा 31 साल पुराना दर्दनाक राज

इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने कहा, ‘ब्रिटिश अखबार ने हमारे उस जख्म को कुरेदा है, जिसे भूलने में हमें 31 साल लग गए.’

ब्रिटिश अखबार ने छापा बेन स्टोक्स के सौतेले पिता से जुड़ा 31 साल पुराना दर्दनाक राज
इंग्लैंड के बेन स्टोक्स अपने प्रशंसकों को ऑटोग्राफ देते हुए. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: इंग्लैंड के बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने उस रिपोर्ट को बेहद असंवेदनशील और दुखदायी करार दिया है, जिसमें उनके सौतेले पिता और भाई-बहन के बारे में छापा गया है. ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने कहा, ‘ब्रिटिश अखबार ने हमारे उस जख्म को कुरेदा है, जिसे भूलने में हमें 31 साल लग गए. यह अत्यंत अनुचित व्यवहार है. यह घटिया पत्रकारिता है, जो सिर्फ बेचने पर आधारित है, किसी की जिंदगी से नहीं. यह काफी गलत है.’

इंग्लिश अखबार द सन (The Sun) ने बेन स्टोक्स के सौतेले पिता से जुड़ा वो वाक्या छापा है, जिससे ज्यादातर लोग अनजान थे. अखबार की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 30 साल पहले स्टोक्स की मां के पूर्व पति ने उनके (स्टोक्स) सौतेले भाई और बहन की हत्या कर दी थी. बेन स्टोक्स ने मंगलवार को एक इमोशनल ट्वीट करते हुए इस अखबार की निंदा की. इसके बाद ब्रिटेन में ट्विटर में #DontBuyTheSun ट्रेंड करने लगा. 

यह भी देखें: VIDEO: आंद्रे रसेल बनने वाले हैं पिता, यूनिक स्टाइल में बताया- घर आने वाली है खुशखबरी 

बेन स्टोक्स ने लिखा, ‘मेरे परिवार को उस भयानक हादसे को भूलने में कई साल लग गए. अखबार ने अपने रिपोर्टर को मेरे घर और न्यूजीलैंड में भेजकर अब उसे कुरेदने का काम किया है.’ स्टोक्स ने लिखा, ‘मेरे नाम का इस्तेमाल करके मेरी और मेरे माता-पिता की निजता पर हमला किया गया. यह गलत है. मैं किसी को यह हक नहीं देता हूं कि मेरी प्रोफाइल से मेरे माता-पिता, पत्नी और मेरे बच्चों के अलावा मेरे पारिवारिक सदस्यों की निजता पर हमला किया जाए.’ 
 

ben stokes

 

ब्रिटिश अखबार ने हत्यारे की 49 वर्षीय बेटी जैकी डन के हवाले से कई बातों का खुलासा किया है. उसने लिखा, ‘अप्रैल 1988 में स्टोक्स के जन्म से पहले उनकी 8 वर्षीय सौतेली बहन ट्रेसी और 4 वर्षीय सौतेले भाई एंड्रयू की हत्या कर दी गई थी. इस वारदात को देब स्टोक्स (बेन स्टोक्स की मां) के पूर्व पति रिचर्ड डन ने अंजाम दिया था. जैकी ने बताया कि वे उस वक्त 18 साल की थीं.

बता दें कि बेन स्टोक्स जब छोटे थे, तब उनका परिवार न्यूजीलैंड से आकर इंग्लैंड में बस गया था. इसी कारण स्टोक्स इंग्लैंड के लिए खेलते हैं. उन्होंने इंग्लैंड को विश्व चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई थी. इत्तफाक से इंग्लैंड ने आईसीसी विश्व कप के फाइनल में न्यूजीलैंड को ही हराया था.