close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बेन स्टोक्स चाहते हैं कि उन्हें विवाद के लिए नहीं, बल्कि उनके खेल के लिए याद रखा जाए

इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स कानूनी मामले को भुलाकर एशेज और विश्व कप पर फोकस करना चाहते हैं.

बेन स्टोक्स चाहते हैं कि उन्हें विवाद के लिए नहीं, बल्कि उनके खेल के लिए याद रखा जाए
बेन स्टोक्स अपने बीते कानूनी मामले को भूलना चाहते हैं . (फोटो : Reuters)

लंदन:  बेन स्टोक्स  अब अपने साथ हुए एक साल पहले के विवाद को एक बुरी याद की तरह भूलना चाहते हैं. उन्हें उम्मीद है कि पिछले साल देर रात सड़क पर हुई झड़प की बजाय क्रिकेट प्रेमी इंग्लैंड के हरफनमौला के रूप में मैदान पर उनके प्रदर्शन को याद रखेंगे. स्टोक्स को सितंबर 2017 में ब्रिस्टल के एक नाइटक्लब के बाहर हुई लड़ाई के कारण कानूनी मामले का सामना करना पड़ा था. इस मामले में उनपर कोई कानूनी कार्यवाही नहीं हुई थी, लेकिन अभी  इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की क्रिकेट अनुशासन समिति का इस मामले में फैसला होना बाकी है. 

स्टोक्स को दिसंबर में इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड की क्रिकेट अनुशासन समिति के सामने पेश होना है. उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ टी20 मैच से पहले कोलंबो में बीबीसी से कहा, ‘‘अब मैं आगे की सोच रहा हूं. हमें विश्व कप और एशेज खेलना है और मेरा पूरा ध्यान उसी पर है. मैं पीछे मुड़कर देखने में विश्वास नहीं करता. भविष्य के बारे में सोच रहा हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अपने कैरियर में कभी पीछे देखने में विश्वास नहीं किया. मैं ऐसे खिलाड़ी के रूप में याद रखा जाना चाहता हूं जिसने इंग्लैंड में क्रिकेट पर अपनी छाप छोड़ी.’’ 

क्रिकेट को बदनाम करने का आरोप अब भी है
गौरतलब है कि इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने हाल ही में बेन स्टोक्स और एलेक्स हेल्स पर पिछले साल रात में नाइटक्लब के बाहर घटी घटना के संबंध में खेल को बदनाम करने का आरोप लगाया था. ईसीबी ने क्रिकेट अनुशासन आयोग (सीडीसी) सितंबर 2017 में ब्रिस्टल में नाइटक्लब के बाहर की घटना की जांच की जिम्मेदारी सौंपी थी. 

हाल ही में बरी हुए स्टोक्स वनडे टीम में शामिल थे
प्रत्येक खिलाड़ी पर ईसीबी के नियम 3.3 के उल्लंघन का आरोप लगाया गया था जिसमें कहा गया था कि कोई भी खिलाड़ी कभी ऐसा व्यवहार नहीं करेगा जिससे ईसीबी, क्रिकेट खेल या क्रिकेटर या क्रिकेटरों के समूह की बदनामी हो. स्टोक्स को श्रीलंका के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज में भी शामिल किया गया था. 27 वर्षीय बेन स्टोक्स को पिछले महीने सात दिवसीय ट्रायल के बाद बरी कर दिया गया था. वह इस घटना के दौरान हेल्स (29 साल) उनके साथ थे लेकिन उन पर आरोप नहीं लगाया गया था.

(इनपुट भाषा)