close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टेस्ट जर्सी पर छपे नंबर और नामों से ब्रेट ली नाराज, कहा- ICC ने इस बार गलत किया

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व  तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने टेस्ट जर्सी पर छपे नंबर और नामों को बेकार बताया है.

टेस्ट जर्सी पर छपे नंबर और नामों से ब्रेट ली नाराज, कहा- ICC ने इस बार गलत किया
ब्रेट ली के नाम टेस्ट क्रिकेट में 76 मैच में 310 विकेट हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने टेस्ट जर्सी पर छपे नंबर और नामों को बेकार बताया है. ब्रेट ली का मानना है कि टेस्ट जर्सी सरल ही अच्छी लगती है. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया फिलहाल,  एशेज सीरीज का पहला टेस्ट खेल रहे हैं. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया पहली टीमें हैं, जिनके खिलाड़ियों ने जर्सी पर नंबर और नाम वाली टी शर्ट्स पहनी हैं. एशेज सीरीज आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के तहत खेली जा रही है.

जर्सी पर नाम और नंबर बेहूदा- ली
ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने ट्वीट किया, "यह कितना खराब है, मैं टेस्ट क्रिकेट में खिलाड़ियों की जर्सी पर नंबर और नाम लिखने के खिलाफ हूं. मुझे लगता है कि यह बेहूदा दिख रहा है. आईसीसी मुझे आपके द्वारा किए गए बदलाव आमतौर पर पसंद आते हैं लेकिन इस बार आपने गलत किया."

 

एडम गिलक्रिस्ट ने भी जताई नराजगी
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने भी जर्सी पर छपे नंबर और नामों पर अपनी नराजगी व्यक्त की थी. गिलक्रिस्ट ने कहा थी कि जर्सी पर नंबर और नाम डालना बेवकूफी है. गिलक्रिस्ट ने एक ट्वीट के जरिये कहा था," एशेज सीरीज शुरू हो गयी है, आप सभी इसका लुत्फ उठाए. मुझे जर्सी पर नंबर और नाम अच्छे नहीं लग रहे हैं."

142 साल के इतिहास में पहली बार जर्सी पर नाम और नंबर
दरअसल, टेस्ट में खिलाड़ियों की जर्सी पर नाम और नंबर आईसीसी द्वारा की गई एक पहल है ताकि फैंस को खिलाड़ियों से जोड़ा जा सके. टेस्ट क्रिकेट के 142 वर्ष के इतिहास में पहली बार जर्सी पर खिलाड़ियों का नाम और नंबर डाला गया है. इसकी शुरुआत एशेज सीरीज से हुई है.

(इनपुट IANS से)