close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानें क्यों वोक्स के शतक ने लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लैंड की हार की नामुमकिन बनाया

लॉर्ड्स टेस्ट के तीसरे दिन क्रिस वोक्स के शतक ने इंग्लैंड को मजबूत स्थिति में ला दिया. यहां से इंग्लैंड की हार नामुमकिन हो गई है. 

जानें क्यों वोक्स के शतक ने लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लैंड की हार की नामुमकिन बनाया
क्रिस वोक्स चोट केबाद इंग्लैंड टीम में वापस आए और शतक लगाया. (फोटो : PTI)

लॉर्ड्स : लंदन के लॉर्ड्स  मैदान में भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मैच के तीसरे दिन भारत के गेंदबाजी लंच से पहले तो कुछ हद तक अच्छी थी लेकिन लंच के बाद विकेटों को तरसती दिखी. लंच तक जहां इंग्लैंड का स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 89 रन था वहीं दिन का खेल खत्म होते होते  वह 6 विकेट के नुकसान पर 357 हो गया जिससे इंग्लैंड को 250 रन की अहम बढ़त मिल गई. इंग्लैंड की इस पारी में क्रिस वोक्स के नाबाद 120 रन और जॉनी बेयरस्टॉ के शानदार 93 रनों का खासा योगदान रहा. 

तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक वोक्स ने 159 गेंदों में 18 चौकों के साथ 120 रनों की नाबाद पारी खेली. जब इंग्लैंड का स्कोर 5 विकेट पर 131 रन था तब वोक्स क्रीज पर आए. उस समय जॉनी बेयरस्टॉ लंबी पारी खेलने की कोशिस में थे. उन्होंने  बेयरस्टॉ के साथ 189 रनों की पारी खेली. बेयरस्टॉ 93 रन बनाकर आउट हुए. 

इंग्लैंड की हार हुई नामुमकिन
वोक्स के शतक ने इंग्लैंड को टेस्ट में इतनी मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया की अब इस टेस्ट में इंग्लैंड की हार तो लगभग नामुमकिन हो गई है. मैच में केवल दो दिन रह गए हैं. चौथे इंग्लैंड लंच तक हर हाल में पारी घोषित कर देगा. लेकिन इसकी उम्मीद भी कम होगी. अगर जो रूट यह मैच जीतना चाहते हैं तो उनके पास समय कम है लेकिन मौका ज्यादा. अभी पारी घोषित कर वे सुबह की नमी का फायदा उठा कर भारत के उच्च क्रम के एक दो विकेट जल्दी लेकर दबाव बना सकते हैं. अगर दिन भर में भी टीम इंडिया को आउट कर दिया तो उनके पास पांचवा दिन मैच जीतने के लिए काफी ज्यादा ही होगा. 

मौसम की भी भूमिका रह सकती है आगे
लेकिन मौसम भी मैच में खलल डालेगा इसकी उम्मीद भी कम नहीं है.  इस लिहाज से रूट के अभी से ही पारी घोषित कर  जल्द से जल्द टीम इंडिया पर दबाव डालना चाहिए. वहीं टीम इंडिया के लिए मैच ड्रॉ कराना जीत से कम नहीं होगा. हां अगर मौसम की वजह से मैच ड्रॉ या रद्द हो जाए तो बात अलग है. विराट सेना को भी अपनी दूसरी पारी की बल्लेबाजी बेहतर करनी होगी अगर पानी नहीं गिरता है तो इसका उनको मौका भी मिलेगा. लेकिन टीम के फॉर्म और मनोबल के आसार ऐसे नहीं लगते कि विराट की टीम दिन भर भी बल्लेबाजी कर लेगी.  बारिश उसी हार को टाल सकती है लेकिन इंग्लैंड के गेंदबाजों को भी फायदा पहुंचाएगी.

इंग्लैंड को मौसम का खूब लाभ मिला
इंग्लैंड की इस बढ़त में मौसम का भी योगदान रहा. बारिश के कारण दूसरे दिन केवल 35.2 ओवर का ही खेल हो सका था जिसमें टीम इंडिया की पहली पारी केवल 107 रन पर सिमट गई थी. हालात का लाभ उठाते हुए जेम्स एंडरसन ने  इंग्लैंड की ओर से सबसे ज्यादा पांच विकेट  लिए. उनके लॉर्ड्स में 99 टेस्ट विकेट हो गए हैं. पहली पारी में भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन रविचंद्रन अश्विन ने बनाए. उन्होंने 29 रनों की पारी खेली. उनके बाद सबसे ज्यादा 23 रन कप्तान विराट कोहली (23) रन बनाए. वहीं दूसरे दिन पिच बल्लेबाजी के अधिक माकूल थी. 

बारिश की वजह से पहल दिन नहीं हो सका
मैच का पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ गया था और बिना एक भी गेंद फेंके रद्द कर दिया गया था. एंडरसन ने 20 रन देकर पांच विकेट लिए. क्रिस वोक्स को दो सफलताएं मिलीं. स्टुअर्ट ब्रॉड और सैम कुरैन को एक-एक विकेट मिला. इस मैच में सब कुछ इंग्लैंड के पक्ष में हुआ सिवाए फील्डिंग के. इंग्लैंड के फील्डर अगर आए मौकों को लपक लेते तो टीम इंडिया काफी पहले ही आउट हो गई होती.