close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सौरव गांगुली फिर चुने गए सीएबी अध्यक्ष, पर एक साल के भीतर ही छोड़ना होगा पद

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के चार अन्य अधिकारियों को निर्विरोध चुना गया है. 

सौरव गांगुली फिर चुने गए सीएबी अध्यक्ष, पर एक साल के भीतर ही छोड़ना होगा पद
सौरव गांगुली करीब पांच साल से बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े हुए हैं. (फाइल फोटो)

कोलकाता: पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) एक बार फिर बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष चुन लिए गए हैं. सौरव को निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया है. उनके साथ चार अन्य अधिकारियों को भी निर्विरोध चुना गया है. सौरव गांगुली जुलाई 2020 तक सीएबी ( CAB) के अध्यक्ष रहेंगे. इसके बाद वे ‘कूलिंग ऑफ पीरियड’ पर चले जाएंगे. 

प्रशासकों की समिति (सीओए) के आदेश के मुताबिक, सीएबी शनिवार को अपनी वार्षिक आम बैठक (एजीएम) का आयोजन करेगी. सीएबी द्वारा जारी बयान में चुनाव अधिकारी सुशांता रंजन उपाध्याय ने कहा, ‘मैं, बंगाल क्रिकेट संघ का चुनाव अधिकारी इस बात का ऐलान करता हूं कि निम्न लोगों को इनके पदों पर निर्विरोध चुना गया है.’

यह भी पढ़ें: श्रीनिवासन की बेटी रूपा ने रचा इतिहास, देश के किसी भी क्रिकेट बोर्ड की पहली अध्यक्ष बनीं 

47 साल के सौरव गांगुली दूसरी बार सीएबी (Cricket Association of Bengal) के अध्यक्ष बने हैं. 2015 में जगमोहन डालमिया के निधन के बाद गांगुली ने पहली बार यह पद संभाला था. सौरव गांगुली का सीएबी में 2020 में छह साल का कार्यकाल पूरा हो जाएगा. इसके बाद उन्हें कूलिंग ऑफ पीरियड पर जाना होगा. बीसीसीआई (BCCI) के संविधान के मुताबिक राज्य क्रिकेट एसोसिशन में कोई भी पदाधिकारी लगातार छह साल से ज्यादा समय के लिए पद पर नहीं रह सकता है. अगर पद अलग-अलग हैं, तब भी यह नियम लागू होता है. 

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के बेटे अभिषेक डालमिया अब सचिव होंगे. पहले वे संयुक्त सचिव थे. देबब्रत दास को संयुक्त सचिव चुना गया है. देबाशीष गांगुली को कोषाध्यक्ष चुना गया है. सभी अधिकारी शनिवार को होने वाली एजीएम में पद ग्रहण करेंगे.