close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी बनीं करणी सेना की गुजरात महिला इकाई की प्रमुख

रवींद्र जडेजा की पत्नी को करणी सेना की महिला शाखा का प्रमुख बनाया गया है

क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी बनीं करणी सेना की गुजरात महिला इकाई की प्रमुख
रवींद्र जडेजा का उनकी पत्नी को करणी सेना में मिली नई जिम्मेदारी पर पूरा समर्थन हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: फिल्म पदमावत का तीखा विरोध करने वाली करणी सेना अब चर्चा में हैं. इसका कारण किसी नई फिल्म का विरोध करना नहीं बल्कि संगठन में एक नियुक्ति है. हाल ही में क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी रिवाबा जडेजा को करणी सेना की गुजरात राज्य की महिला इकाई का प्रमुख बनाया गया है. रिवाबा इसी साल मई में तब चर्चा में आईं थी जब एक कांस्टेबल ने उन्हें चांटा मार दिया था.  

करणी सेना गुजरात और राजस्थान में क्षत्रीय और राजपूत समाज का प्रतिनिधित्व करता है. करणी सेना पिछले साल तब पूरे देश में चर्चा में आई थी जब उसने संजय लीला भंसाली की फिल्म पदमावत के पुरजोर विरोध किया था और राजस्थान में उसे रिलीज होने नहीं दिया था. सेना के स्थानीय नेताओं का कहना है कि रिवाबा की नियुक्ति सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने की है. रिवाबा ने राजकोट में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उनके नाम का प्रस्ताव करने के लिए सौराष्ट के करणी सेना प्रमुख जेपी जडेजा और जामनगर की शहरी इकाई की प्रमुख रिताबा जडेजा का धन्यवाद दिया.  

पहला लक्ष्य महिला सशक्तिकरण
इसी साल मई में  ही उनके साथ जामनगर में एक पुलिस कांस्टेबल ने उन्हें इस बात पर चांटा मार दिया था क्योंकि उनकी कार ने उस कांस्टेबल की बाइक को टक्कर मार दी थी.  इंडियन एक्प्रेस के मुताबिक उन्होंने कहा, “ मेरा पहला लक्ष्य महिला सशक्तिकरण होगा, जब पुरुष उनके आसपास बुरे इरादे से आएं तो वे खुद की रक्षा कर सकें, खुद की देखभाल कर सकें. यह मेरा प्रमुख लक्ष्य है क्योंकि मैं खुद ऐसे अनुभवों से गुजरी हूं.”  उसी घटना की ओर इशारा करते हुए रिवाबा ने कहा कि वे महिलाओं के हक के लिए लड़ती रहेंगी. 

करणी सेना का मजबूत बनाने के लिए काम करने का संकल्प लेते हुए उन्होंने कहा वे सेना की पहुंच तालुक स्तर तक ले जाने की कोशिश करेंगी. “करणी सेना ने केवल अपने समाज के ही नहीं बल्कि उन लोगों के हित के लिए मुद्दे उठाए हैं जिनका शोषण हुआ है. ऐसे संगठन का हिस्सा होना गर्व का विषय है.”

पति का पूरा समर्थन
रिवाबा ने बताया कि प्रस्ताव स्वीकारने से पहले उन्होंने क्रिकेटर पति रवींद्र जडेजा से चर्चा की थी. उन्होंने कहा “मैंने उन्हें बताया कि यह हमारे समाज के लिए है. मैंने कहा कि मैं एक उदाहरण रख सकती हूं, यह हमारे समाज के भले के लिए होगा. उनका (रवींद्र) कहना था कि यदि में चाहती हूं और विश्वास करती हूं कि मैं अपने समाज के लिए कुछ कर सकती हूं, तो मुझे यह करना चाहिए. मुझे उनका पूरा समर्थन है.”

2016 में रवींद्र जडेजा से शादी हुई थी
रिवाबा की रवींद्र जडेजा से साल 2016 में शादी हुई थी. दोनों की एक बच्ची भी है. वे एक मैकेनिकल इंजीनयर हैं. रवींद्र जडेजा कुछ समय पहले तक टीम इंडिया में जगह बनाने में संघर्षरत थे लेकिन इंग्लैंड दौरे की टेस्ट सीरीज में मौका मिलने के बाद उन्होंने बढ़िया प्रदर्शन किया और उसके बाद एशिया कप और हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में शतक भी लगाया था. यह मैच राजकोट में ही हुआ था. 

राजनीति से जुड़कर चुनाव लड़ने के सवाल पर रिवाबा ने कहा कि वे इस स्तर पर कुछ भी नहीं कह सकतीं.  फिलहाल वे अपने समाज के लिए काम करते रहना चाहती हैं. उनका ध्यान अभी समाज सेवा ही है.