डेविस कप: दिविज शरण इटली के खिलाफ मुकाबले के लिए भारतीय टीम में लौटे, बालाजी बाहर

भारत और इटली की टीमों के बीच एक और दो फरवरी को कोलकाता में विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबला खेला जाएगा. 

डेविस कप: दिविज शरण इटली के खिलाफ मुकाबले के लिए भारतीय टीम में लौटे, बालाजी बाहर
प्रजनेश गुणेश्वरन (बाएं) और साकेत मायनेनी की जोड़ी बेंगलुरू टेनिस ओपन में उपविजेता रही थी. (फोटो: PTI)

पुणे: एशियन गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता दिविज शरण का 2012 के बाद पहली बार डेविस कप मैच में खेलना तय है. उन्हें कोलकाता में एक और दो फरवरी को इटली के खिलाफ होने वाले विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबले के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है. 

अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) के मुताबिक, रोहित राजपाल की अगुवाई वाली नई चयनसमिति ने मुख्य रूप से रैंकिंग के आधार ही टीम का चयन किया है. संघ के सूत्रों ने कहा, ‘चयनसमिति ने चोटी के चार सिंगल्स खिलाड़ियों और शीर्ष दो डबल्स खिलाड़ियों को चुना है.’ 

दिविज शरण कंधे की चोट के कारण सर्बिया के खिलाफ नहीं खेल पाए थे. दिल्ली का यह खिलाड़ी अभी डबल्स रैंकिंग में 39वें नंबर पर हैं और वह 37वें नंबर के रोहन बोपन्ना के साथ जोड़ी बनाएंगे. इन दोनों ने 2019 में पेशेवर टूर में भी जोड़ी बनाने का फैसला किया है. दिविज शरण ने न्यूजीलैंड के खिलाफ डेविस कप में पदार्पण किया था. 

युकी भांबरी घुटने की चोट के कारण कोर्ट से बाहर चल रहे हैं. इसलिए सिंगल्स में प्रजनेश गुणेश्वरन (110) और रामकुमार रामनाथन (132) मुख्य भूमिका निभाएंगे. बेंगलुरू चैलेंजर के उप विजेता और टाटा ओपन महाराष्ट्र के मुख्य दौर में जगह बनाने वाले साकेत मायनेनी (259) ने अपनी जगह सुरक्षित रखी है. 

सर्बिया के खिलाफ चौथे मैच में खेलने वाले एन श्रीराम बालाजी और रिजर्व खिलाड़ी अर्जुन काधे को बाहर कर दिया गया है. टीम में शशिकुमार मुकुंद के रूप में नया खिलाड़ी जोड़ा गया है, जिन्होंने 2018 के सत्र में प्रभावशाली प्रदर्शन किया. वह अभी 295वें स्थान पर हैं. 

 

Leander Paes
अनुभवी लिएंडर पेस को फिर से टीम से बाहर रखा गया है. (फोटो: IANS)

लिएंडर पेस को फिर नहीं मिला मौका 
अनुभवी लिएंडर पेस को फिर से टीम से बाहर रखा गया है. वे युगल में देश के तीसरे सर्वाधिक रैंकिंग (विश्व रैंकिंग 63) वाले खिलाड़ी हैं. भारत कोलकाता के साउथ क्लब में ग्रास कोर्ट पर इटली की मेजबानी करेगा. माना जा रहा है कि लिएंडर पेस को महेश भूपति के साथ तनावपूर्ण संबंधों के कारण टीम से बाहर रखा जा रहा है. लिएंडर पेस डेविस कप में डबल्स में सबसे अधिक जीत का रिकॉर्ड बनाने से महज एक जीत दूर हैं. 

भारतीय टीम: प्रजनेश गुणेश्वरन, रामकुमार रामनाथन, दिविज शरण, रोहन बोपन्ना, साकेत मायनेनी और शशिकुमार मुकुंद.