Delhi Violence: गौतम गंभीर ने केजरीवाल पर साधा निशाना, खतरनाक है CM की चुप्पी

Delhi Violence: भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि ताहिर हुसैन को ना जनता माफ करेगी, ना कानून और ना भगवान.  

Delhi Violence: गौतम गंभीर ने केजरीवाल पर साधा निशाना, खतरनाक है CM की चुप्पी

नई दिल्ली: दिल्ली में फैले दंगों (Delhi Violence) ने 37 लोगों की जान ले ली है. करीब 200 लोग घायल हैं. इन दंगों को राजनीति ने भी खूब हवा दी. आम आदमी पार्टी (AAP) के एक नेता पर तो हत्या का मुकदमा तक दर्ज कर लिया गया है. भाजपा सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने इस मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि केजरीवाल की चुप्पी बेहद खतरनाक है. 

उत्तर पूर्वी दिल्ली के चांदबाग इलाके में हुई हिंसा के मामले में निगम पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है. इसके बाद आप (AAP) ने हुसैन को जांच होने तक सस्पेंड कर दिया है. आम आदमी पार्टी ने कहा है कि जब तक हिंसा में ताहिर हुसैन की भूमिका की जांच पूरी नहीं हो जाती है तब तक वह पार्टी से सस्पेंड रहेंगे. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: एक ही मैच में 10 दिग्गजों को पीछे छोड़ सकते हैं कोहली, करना होगा यह काम

पूर्व क्रिकेटर और सांसद गौतम गंभीर ने इस मामले में ट्वीट किया. उन्होंने कहा, ‘IB जवान अंकित शर्मा को मार कर लाश नाली में फेंक देना, घर में दंगाइयों को पनाह देना और पेट्रोल बम फेंकना! ऐसे आरोप एक प्रतिनिधि पर लग रहे हैं! अगर ये साबित होता है, तो ताहिर हुसैन को ना जनता माफ करेगी, ना कानून और ना भगवान. मिस्टर अरविंद केजरीवाल, आपकी चुप्पी खतरनाक है.’ 

यह भी पढ़ें: IPL 2020: विश्व विजेता कप्तान की दो टूक- अगर थक गए हो तो मत खेलो आईपीएल

पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग, युवराज सिंह, इरफान पठान और रोहित शर्मा भी दिल्ली हिंसा पर चिंता जता चुके हैं. सहवाग ने इसे दिल्ली का दाग करार दिया तो युवराज सिंह ने कहा कि दिल्ली जल रही है. इरफान पठान ने कहा कि नफरत ऐसी बीमारी है, जो तेजी से फैलती है. इसलिए इससे दूर रहें. वहीं, रोहित शर्मा ने उम्मीद जताई कि दिल्ली में जल्दी ही शांति लौट आएगी. 

बता दें कि दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के नाम पर हिंसा भड़क गई है. इसमें 37 लोगों की मौत हो चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया और लोगों से बातचीत की. दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने हिंसा प्रभावित इलाकों में मार्च किया.