close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फारूक अब्दुल्ला की मुश्किलें बढ़ीं, जेकेसीए घोटाले में ईडी कर रही है पूछताछ

फारूक अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख नेता हैं. 

फारूक अब्दुल्ला की मुश्किलें बढ़ीं, जेकेसीए घोटाले में ईडी कर रही है पूछताछ
नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (JKCA) के अध्यक्ष रह चुके हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) क्रिकेट में अपनी भूमिका को लेकर मुश्किल में घिर सकते हैं. नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) के इस नेता से ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) पूछताछ कर रही है. बताया जा रहा है कि फारूक अब्दुल्ला से यह पूछताछ जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) घोटाला मामले में की जा रही है. वे जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष रह चुके हैं. 

जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (JKCA) में कुछ साल पहले करोड़ों रुपए का घोटाला सामने आया था. पूछताछ इसी मामले में चल रही है. सूत्रों ने बताया कि ईडी (ED) ने फारूक अब्दुल्ला को बुधवार को चंडीगढ़ स्थित अपने दफ्तर में दोपहर करीब 12.00 बजे बुलाया.  
 

जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) का यह घोटाला 2010-11 का हैैै. तब जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट ने जेकेसीए में कथित 112 करोड़ रुपए के घोटाले का मामला सीबीआई को सौंपा था. सीबीआई भी इस मामले में फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ कर चुकी है. सीबीआई ने पिछले साल जनवरी में अब्दुल्ला से पूछताछ की थी. 

क्या है मामला
सीबीआई ने जेकेसीए के कोष में कथित अनियमितताओं और गबन के सिलसिले में फारूक अब्दुल्ला और तीन अन्य के खिलाफ श्रीनगर की एक अदालत में कुछ समय पहले आरोपपत्र दाखिल किया था. एजेंसी ने जेकेसीए के तत्कालीन अध्यक्ष अब्दुल्ला, तत्कालीन महासचिव मोहम्मद सलीम खान, तत्कालीन कोषाध्यक्ष अहसान अहमद मिर्जा और जेएंडके बैंक के एक कर्मचारी बशीर अहमद मिसगर पर आपराधिक साजिश और विश्वासघात के आरोप लगाए थे. एजेंसी ने कहा था कि बीसीसीआई ने 2002 से 2011 के बीच राज्य में क्रिकेट सुविधाओं के विकास के लिए 112 करोड़ रुपए दिए थे. सीबीआई ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने इस राशि में से 43.69 करोड़ रुपए का गबन कर लिया.