close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पूर्व IPL कमिश्नर राजीव शुक्ला बोले, 'BCCI के लिए खास साबित होंगे गांगुली'

BCCI के नए प्रमुख सौरव गांगुली ने अपना पदभार संभाल लिया है. पूर्व आईपीईल कमिश्नर राजीव शुक्ला उनकी तारीफ करते हुए खुशी जाहिर की. 

पूर्व IPL कमिश्नर राजीव शुक्ला बोले, 'BCCI के लिए खास साबित होंगे गांगुली'
राजीव शुक्ला ने बीसीसीआई के नए अध्यक्ष गांगलुी की नेतृत्व क्षमताओं पर पूरा भरोसा दिलाया है.(फाइल फोटो)

मुंबई: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के पूर्व चेयरमैन राजीव शुक्ला (Rajeev Shukla) ने कहा है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नए अध्यक्ष सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) बोर्ड के लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित होंगे. गांगुली को बुधवार को यहां आधिकारिक रूप से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का अध्यक्ष चुना गया. गांगुली का निर्वाचन विरोध हुआ था. उनके नाम के सहमति नामांकन भरने से पहली ही हो गई थी. 

बुधवार को ही बीसीसीआई के नए संविधान के तहत चुनाव प्रक्रिया पूरी होना तय हुआ था. इस प्रक्रिया का लागू करने की व्यवस्था सुप्रीम कोर्ट ने 33 महीने पहले प्रशासकों की समिति (CoA)  ने की थी. इस समिति का गठन सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू करने के लिए किया गया था, जिसे क्रिकेट में भ्रष्टाचार पर नियंत्रण करने सहित अन्य कई सुधारों की अनुशंसाएं देने के लिए बनाया गया था.

 तस्वीरों में देखें, कैसे दर्ज की टीम इंडिया ने रांची में ऐतिहासिक जीत 

शुक्ला ने यहां संवाददाताओं से कहा, "भारतीय क्रिकेट के लिए एक खुशी का पल. सौरव गांगुली के पास बड़ी प्रतिभा है. वह बीसीसीआई के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे." शुक्ला ने कहा, "यह एक अच्छा संयोजन होगा. उन्होंने भारतीय क्रिकेट का बेहतरीन नेतृत्व किया है. यह खेल के लिए खुशी का समय है."

गांगुली के अलावा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह को सचिव नियुक्त किया गया. केरल के जयेश जॉर्ज नए संयुक्त सचिव और उत्तराखंड के महीम वर्मा नए उपाध्यक्ष चुने गए. पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल कोषाध्यक्ष बने हैं.

वहीं सीओए के प्रमुख रह चुके विनोद राय ने भी माना है कि बीसीसीआई अध्यक्ष पद के लिए गांगुली से बेहतर व्यक्ति कोई नहीं हो सकता. गांगुली की टीम बनते ही विनोद राय की 33 महीने पुराने सीओेए का अस्तित्व स्वतः समाप्त है. 
(इनपुट आईएएनएस)