Breaking News
  • कोरोना जल्द खत्म होने वाला नहीं, कोई अस्पताल मरीज को बाहर निकाल नहीं सकता: केजरीवाल
  • जम्मू कश्मीर के कुलगाम में एनकाउंटर, सुरक्षाबलों ने 2 आतंकियों को ढेर किया

क्रिकेट पर लगे ब्रेक को लेकर रवि शास्त्री ने कही अहम बात, जानिए पूरी डिटेल

कोरोना वायरस की वजह से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया की वनडे सीरीज रद्द कर दी गई थी और इसके बाद आईपीएल 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया है.

क्रिकेट पर लगे ब्रेक को लेकर रवि शास्त्री ने कही अहम बात, जानिए पूरी डिटेल

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा है कि कोरोना वायारस (Coronavirus) की वजह से लगा लॉकडाउन (Lockdown) भारतीय खिलाड़ियों के लिए अच्छा है जिससे उन्हें आराम करना का मौका मिलेगा. शास्त्री ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों की मानसिकता पर न्यूजीलैंड दौरे की थकान दिखने लगी थी. शास्त्री ने कहा, "यह आराम बुरी चीज नहीं है क्योंकि अगर आप न्यूजीलैंड दौरे के अंत पर गौर करेंगे तो देख सकेंगे कि खिलाड़ियों पर मानसिक थकान, फिटनेस और चोटों का असर दिखने लगा था."

यह भी पढ़ें- जन्मदिन के मौके पर ICC ने किया भारत के महान कप्तान पॉली उमरीगर को याद

उन्होंने कहा, "बीते 10 महीनों में हमने जो क्रिकेट खेली थी, उसका असर दिखने लगा था। मेरे और बाकी अन्य सपोर्ट स्टाफ, हमने 23 मई को भारत छोड़ा था वर्ल्ड कप के लिए उसके बाद से हम सिर्फ 10-11 दिन ही घर पर रहे." न्यूजीलैंड दौरे के बाद भारत को घर में दक्षिण अफ्रीका के साथ 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलनी थी जो कोरोना वायरस की वजह से रद्द कर दी गई. और इसके बाद आईपीएल खेलना था जो 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया है.

कोच ने कहा, "इंग्लैंड के बाद हम वेस्टइंडीज गए. इसके बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत में खेले. यहां हमने दो-ढाई महीने का सीजन खेला और इसके बाद न्यूजीलैंड गए. यह मुश्किल था इसलिए यह आराम खिलाड़ियों के लिए अच्छा है." शास्त्री ने कहा कि इस समय खिलाड़ियों को मैदान पर लौटने की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए बल्कि बीमारी के खिलाफ जागरूकता फैलानी चाहिए.

कोच ने कहा, "एक खिलाड़ी के तौर पर आपके ऊपर जिम्मेदारी होती है. मुझे लगता है कि इस समय सबसे पहली चीज सुरक्षा है. सिर्फ अपनी नहीं बल्कि यह सुनिश्चित करना कि आपके आस-पास सभी सुरक्षित रहें. ऐसा आप जागरूकता फैलाने के साथ कर सकते हैं." उन्होंने कहा, "विराट ने ऐसा किया है। कई अन्य खिलाड़ियों ने सोशल मीडिया पर संदेश पोस्ट कर किया है।"
(इनपुट-आईएएनएस)