B'day Special: करियर के बीच में डायबिटीज ने दिया झटका, फिर भी वनडे में लिए 502 विकेट

 पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और ऑलराउंडर वसीम अकरम का जन्म 3 जून 1966 को लाहौर में हुआ था.

B'day Special: करियर के बीच में डायबिटीज ने दिया झटका, फिर भी वनडे में लिए 502 विकेट

नई दिल्ली: क्रिकेट में अकसर कहा जाता है कि ये साल इस क्रिकेटर का है, लेकिन पाकिस्तान में एक गेंदबाज ऐसा भी था जिसका दौर हुआ करता था. जी हां हम बात कर रहे हैं पूर्व पाक कप्तान वसीम अकरम (Wasim Akram) की, जिनको 'स्विंग का सुल्तान' कहते थे. हांलाकि उन्हें एक बेहतरीन ऑलराउंडर कहना ज्यादा सही होगा. उनकी पहचान उनकी तेज गेंदबाजी थी, लेकिन कई बार वो बल्ले से ऐसा कमाल कर जाते थे, कि देखने वालों को यकीन नहीं होता था कि ये बैटिंग में भी माहिर हैं.

उन्होंने वनडे क्रिकेट में 502 विकेट हासिल किए हैं, 500 के आंकड़े को छूने वाले वो दुनिया के पहले गेंदबाज हैं, हांलाकि बाद में श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने वनडे में 534 विकेट लेकर एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया था. नीदरलैंड के निक स्टैथम (Nick Statham) वसीम के 500वें शिकार बने थे, अकरम ने ये खास मुकाम वर्ल्ड कप 2003 के दौरान हासिल किया. टेस्ट क्रिकेट में वसीम अकरम ने 415 विकेट हासिल किए थे. 

वसीम अकरम और वकार यूनिस अपनी टीम की शान हुआ करते थे. टीम में वसीम के रहते हुए पाकिस्तान ने कई कामयाबियां अपने नाम की थी, 1992 का वर्ल्ड कप उनमें से एक था. इसके अलावा इस स्विंग किंग ने अपने कप्तानी में पाक टीम को वर्ल्ड कप 1999 के फाइनल में पहुंचाया था. करियर के दौरान जब वो 30 साल के हुए, तब डायबिटीज नाम की बीमारी ने उन्हें अपना शिकार बना लिया, उनकी आंखों की रोशनी कम होने लगी लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और पाक क्रिकेट टीम को पूरे 19 साल तक योगदान दिया.