शाहिद अफरीदी ने जताया दुख तो गौतम गंभीर ने कहा- शुक्रिया

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर और शाहिद आफरीदी ने भी सोशल मीडिया पर पीड़ित परिवारों के प्रति शोक संदेश और सहानुभूति प्रकट की. 

शाहिद अफरीदी ने जताया दुख तो गौतम गंभीर ने कहा- शुक्रिया
गौतम गंभीर ने शाहिद अफरीदी के साथ शोएब अख्तर का भी शुक्रिया अदा किया (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर और पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी के बीच कुछ वक्त पहले ही कश्मीर मुद्दे को लेकर टि्वटर पर काफी गरम बहस हुई थी. लेकिन हाल ही में पंजाब के अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे पर शाहिद अफरीदी के एक ट्वीट ने उनके और गौतम गंभीर के बीच की सभी दूरियां मिटा दी हैं. दरअसल, दशहरा के दिन अमृतसर में हुए एक ट्रेन हादसे में 61 लोग मारे गए थे. इस घटना ने पूरे देश को दहला दिया था. धोबी घाट में रावण दहन के दौरान लोग रेल की पटरियों पर बैठकर उत्सव मना रहे थे. तभी ट्रेन उनके ऊपर से गुजर गई. इस दुर्घटना में 143 लोग घायल भी हुए. देश से नहीं बल्कि पूरे विश्व से इस दुखद मौके पर शोक संदेशों की बाढ़ आ गई. 

भारत-पाकिस्तान मैच से पहले गौतम गंभीर का बड़ा बयान, 'क्रिकेट से पहले हैं देश के सैनिक'

क्रिकेट जगत ने भी इस घटना की निंदा की और इस पर शोक भी जताया. पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर और शाहिद अफरीदी सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय है. इन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति सोशल मीडिया पर शोक संदेश और सहानुभूति प्रकट की. 

शाहिद अफरीदी-इमरान खान का भारत विरोधी बयान पर गौतम गंभीर का करारा जवाब

उनके इस शोक संदेश की दिल्ली के क्रिकेटर गौतम गंभीर ने तारीफ की है. हाल ही में अपना 37वां जन्मदिन मनाने वाले गौतम गंभीर विजय हजारे ट्रॉफी के दौरान कहा कि पाकिस्तान से हमारे रिश्ते खराब होने के बावजूद शाहिद अफरीदी इस घटना की अनदेखी नहीं कर पाए. गौतम गंभीर ने रावलपिंडी एक्सप्रेस शोएब अख्तर की अभिव्यक्ति का भी स्वागत किया.

गौतम गंभीर ने यह उम्मीद जाहिर की कि इन दोनों क्रिकेटरों की इन अभिव्यक्तियों को लोग सकारात्मक नजरिये से लेंगे. गंभीर ने टि्वटर पर लिखा- शाहिद अफरीदी और मेरे बीच टि्वटर पर कई मुद्दों को लेकर असहमति है लेकिन मैं उनके द्वारा पीड़ित परिवारों के प्रति दिखाई गई हमदर्दी की सराहना करता हूं. मुझे विश्वास है कि भारत में हर व्यक्ति इसका स्वागत करेगा. 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी अमृतसर में हुए इस हादसे पर शोक प्रकट किया है. 

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज का 50 ओवरों में अविश्वसनीय अभियान रहा है. वह केवल दिल्ली का नेतृत्व ही नहीं कर रहे बल्कि वह इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी भी रहे. उन्होंने 10 मैचों में 51.80 की औसत से 518 रन बनाए. उन्होंने दो शतक भी बनाए. हरियाणा के खिलाफ और केरल के खिलाफ उन्होंने अपना अधिकतम स्कोर 151 रन बनाया. वह रणजी ट्रॉफी खेलने के लिए तैयार हैं जो इस साल के अंत में शुरू होगी.