पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने ICC को जमकर लताड़ा, लगाया ये गंभीर आरोप

पाकिस्तान के दिग्गज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पूछा है कि पिछले 10 सालों में क्रिकेट के खेल का स्तर बढा है या गिरा है.

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर  ने ICC को जमकर लताड़ा, लगाया ये गंभीर आरोप

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि उसने पिछले 10 साल में क्रिकेट को खत्म करके घुटनों के बल ला दिया है. संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) के साथ बातचीत में शोएब ने सफेद गेंद के क्रिकेट में खेलने के कुछ नियमों पर नाराजगी जताई जिसने इस फॉर्मेट को बल्लेबाजों का मददगार बना दिया है.

यह भी पढ़ें- Lockdown में प्रवासियों की मदद करने पर इस टीम के मुरीद हुए कोहली, तारीफ में कही ये बात

मांजरेकर ने उनसे पूछा था कि सीमित ओवरों के मैच में तेज गेंदबाज धीमे हो रहे हैं और स्पिनर तेज गेंद डाल रहे हैं, इस पर आपका क्या कहना है. शोएब ने जवाब में कहा, ‘मैं साफ साफ कहूं. आईसीसी क्रिकेट को खत्म कर रही है. मैं खुलेआम कह रहा हूं कि आईसीसी ने पिछले 10 साल में क्रिकेट को खत्म कर दिया है. बहुत खूब. जो सोचा था आपने वो किया.’

उनका मानना है कि प्रति ओवर बाउंसरों की संख्या बढाई जानी चाहिए क्योंकि अब 2 नई गेंद हैं और सर्कल के बाहर ज्यादातर वक्त 4 ही फील्डर हैं. उन्होंने कहा कि आईसीसी से पूछिए कि पिछले 10 सालों में क्रिकेट का स्तर बढा है या गिरा है. अब शोएब बनाम सचिन मुकाबले कहां हैं.

तेंदुलकर के बारे में उन्होंने कहा, ‘मैं कभी उसके साथ आक्रामक नहीं होता था क्योंकि दुनिया के इस बेस्ट बल्लेबाज के लिए काफी सम्मान रहा है. लेकिन मैं उसके बल्ले को खामोश रखने की कोशिश करता था. मसलन भारत के 2006 के पाकिस्तान दौरे पर वह टेनिस एलबो से जूझ रहे थे तो मैं उसे इतने बाउंसर डालता था कि वह हुक या पूल नहीं लगा सके.’ एक सवाल पर उन्होंने ये भी कहा कि यह देखना दिलचस्प होता कि विराट कोहली सामने वसीम अकरम, वकार युनूस या शेन वार्न के होने पर कैसा प्रदर्शन करते.
(इनपुट-भाषा)