IND vs AUS: आसान नहीं, तो मुश्किल भी नहीं है राजकोट में टीम इंडिया की वापसी

India vs Australia: मुंबई में हार के बाद टीम इंडिया राजकोट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वापसी की पूरी कोशिश करेगी. 

IND vs AUS: आसान नहीं, तो मुश्किल भी नहीं है राजकोट में टीम इंडिया की वापसी
टीम इंडिया के लिए राजकोट में करो या मरो का मुकाबला होगा. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: टीम इंडिया मुंबई के करारी हार के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) शुक्रवार को वनडे सीरीज का दूसरा मैच खेलेगी. वैसे तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली खुद ही कह चुके हैं कि उनकी टीम के लिए वापसी आसान नहीं होगी. लेकिन ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने भी माना था की टीम इंडिया वापसी कर सकती है.

मुंबई में टीम इंडिया की 10 विकेट से करारी हार से उसके मनोबल में कुछ गिरावट होगी, लेकिन विराट कोहली ने उम्मीद नहीं छोड़ी है. टीम इंडिया के लिए एक राहत की बात यह हो सकती है कि उसकी हार में ओस की भूमिका का भी हाथ था. जिसके कारण टीम इंडिया के गेंदबाजों में भी वह सटीकता नहीं आ सकी जिसकी उसे 256 के लक्ष्य का बचाव करने के लिए सख्त जरूरत थी. 

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: मुंबई हार में छिपे अहम सबक, विराट को इन बातों पर देना होगा ध्यान

राजकोट में टीम इंडिया का वनडे रिकॉर्ड उसके पक्ष में नहीं है. यहां खेले गए दोनों मैचों में टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा था. इन दोनों मैचों में टीम इंडिया ने टॉस गंवाकर पहले फील्डिंग की थी और वह लक्ष्य का पीछा करने में नाकाम रही थी. 

राजकोट में टीम इंडिया में कई बदलाव देखे जाएं तो हैरानी न होगी. जहां कुलदीप की जगह चहल को मौका मिल सकता है तो वहीं शार्दुल ठाकुर की जगह नवदीप सैनी भी टीम में शामिल हो सकते हैं. वहीं बल्लेबाजी में भी शायद मनीष पांडे की वापसी हो जाए, लेकिन विराट केसामने चुनौती यही होगी कि वे पांडे को किसकी जगह लाएं. वहीं पंत की जगह संजू सैमसन की वापसी भी हो सकती है. 

बहराल विराट को जोर राजकोट में बदलाव की जगह सुधार पर ही ज्यादा होगा. क्योंकि टीम को हर विभाग और हर खिलाड़ी को अपने खेल में सुधार करने की जरूरत है. विराट ने भी मैच के बाद हार स्वीकार करते हुए कहा था कि उनके बल्लेबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का कुछ ज्यादा ही सम्मान किया. यानि विराट अब टीम से ज्यादा आक्रामकता की अपेक्षा रखते हैं. इसमें उनकी टीम कितनी सफल होगी, यह तो राजकोट में ही पता चलेगा.