IND vs BAN: बांग्लादेश के सामने पारी की हार बचाने की चुनौती, फिर गिरे शुरुआती विकेट

India vs Bangladesh: इंदौर टेस्ट के तीसरे दिन बांग्लादेश के सामने पारी की हार बचाने की चुनौती है. 

IND vs BAN: बांग्लादेश के सामने पारी की हार बचाने की चुनौती, फिर गिरे शुरुआती विकेट
उमेश यादव ने दूसरी पारी में भी टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: इंदौर में चल रहे भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच पहले टेस्ट में टीम इंडिया अपनी स्थिति मजूबत करते हुए बांग्लादेश के सामने पारी की हार से बचने की कठिन चुनौती दी है. टीम इंडिया ने दूसरे दिन खेल खत्म होने के बाद अपनी पारी छह विकेट खोकर 493 रन पर घोषित की और बांग्लादेश को पारी की हार से बचने के लिए 343 रन का लक्ष्य दिया. इसके बाद मेहमान टीम के विकेट गिरने का सिलसिला शुरू होने में देर नहीं लगी. 

उमेश ने लिया पहला विकेट
बांग्लादेश की दूसरी पारी में एक बार फिर पहले 5 ओवर में विकेट नहीं गिरे लेकिन छठे ओवर में उमेश यादव ने फिर टीम इंडिया के लिए पहला विकेट गिराया. उमेश के ओवर की पहली ही गेंद पर इमरुल कायेस अंदर आती गेंद को ठीक से समझ नहीं सके और बोल्ड आउट होकर पवेलियन लौट गए. कायेस केवल एक चौका लगाकर कर छह रन बना सके.

यह भी पढ़ें: IND vs BAN अपने रिकॉर्ड दोहरे शतक पर बोले मयंक, 'यह डर निकाल दिया था मैंने'

रीव्यू गंवाया भारत ने
पहला विकेट गिरने के बाद उसी ओवर में टीम इंडिया को एक और विकेट मिलने का मौका मिला जब मोमिनुल हक उमेश की गेंद पर बीट हो गए लेकिन अंपयार ने उनेहं आउट नहीं दिया. इसके बाद टीम इंडिया ने रिव्यू भी लिया लेकिन भारत ने रिव्यू भी गंवा दिया. 

इशांत नहीं रही पीछे
सातवें ओवर में इशांत ने फिर पहली पारी की तरह विकेट दिलाया. जब उनकी अंदर आती गेंद को शादमान इस्लाम समझ नहीं सके और बोल्ड हो गए. शादमान इस पारी में भी केवल छह रन बनाकर आउट हुए. इस तरह से दूसरी पारी में 16 रन के स्कोर पर ही बांग्लादेश अपने ओपनर्स के विकेट गंवा बैठी. 

टीम इंडिया की पारी में मयंक का शानदार दोहरा शतक
टीम इंडिया के दूसरे दिन के खेल में ओपनर मयंक अग्रवाल के दोहरे शतक की अहम भूमिका रही. इसके अलवा अजिंक्य रहाणे की 86 रन की पारी भी उल्लेखनीय रही. दूसरे दिन पहले सत्र में टीम इंडिया ने चेतेश्वपर पुजारा (54) और कप्तान विराट कोहली (0) के अहम विकेट गंवाए जिसके बाद मयंक और रहाणे ने 190 रन की अहम साझेदारी की.

यह भी पढ़ें: B'day Special:घर गिरवी रखकर खोली थी एकेडमी, साइना से सिंधु तक भारत को दिए कई स्टार

रहाणे के आउट होने के बाद मयंक ने अपने करियर का दूसरा दोहरा शतक पूरा किया और जडेजा ने पांचवे विकेट के लिए 123 रन जोड़े.मयंक (243) के जाने के बाद ऋद्धिमान साहा (12) जल्दी ही आउट हो गए. अंत में उमेश और जडेजा ने तेजी से रन बनाए.