close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजकोट टी20: बांग्लादेश की नजरें इतिहास रचने पर, ‘रोहित ब्रिगेड’ पर वापसी का दबाव

India vs Bangladesh: भारत और बांग्लादेश के बीच गुरुवार को राजकोट में दूसरा टी20 मैच खेला जाना है. 

राजकोट टी20: बांग्लादेश की नजरें इतिहास रचने पर, ‘रोहित ब्रिगेड’ पर वापसी का दबाव
रोहित शर्मा (दाएं) और केएल राहुल बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 मैच में ज्यादा रन नहीं बना पाए थे. (फोटो: Reuters)

राजकोट: बांग्लादेश ने रविवार भारत को पहले मैच में मात दे तीन मैचों की टी20 सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है. दोनों टीमों के बीच अब दूसरा मैच गुरुवार को यहां के सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेला जाएगा. भारत के पास बांग्लादेश के खिलाफ (India vs Bangladesh) इस सीरीज में वापसी करने का यह आखिरी मौका है. वहीं, बांग्लादेश (Bangladesh) की नजरें अब सीरीज जीतने पर होंगी. बांग्लादेश ने भारत को अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गए पहले T20 मैच में सात विकेट से हराया था. अगर वह दूसरा मैच भी जीतता है तो भारत को पहली बार किसी द्विपक्षीय सीरीज में हराएगा. 

मेजबान भारत (Team India) इस मैच में अगर जीत हासिल कर लेता है तो 10 तारीख को नागपुर में होने वाला तीसरा मैच रोमांचक हो जाएगा. भारत को वापसी के लिए इस मैच में हर क्षेत्र में संतुलित प्रदर्शन करना होगा. पहले मैच में भारत के बल्लेबाज और गेंदबाज टीम को जीत दिलाने में असमर्थ रहे थे.

यह भी पढ़ें: राजकोट में अनोखा शतक लगाएंगे रोहित, ऐसा करने वाले देश के पहले खिलाड़ी बनेंगे

विराट कोहली की गैरमौजूदगी में टीम की कप्तान संभाल रहे रोहित शर्मा (Rohit Sharma) पर बल्लेबाजी क्रम की भी जिम्मेदारी है. पहले मैच में रोहित का बल्ला नहीं चला था. उनके सलामी जोड़ीदार शिखर धवन ने 42 गेंद पर 41 रन बनाए थे. टी20 के लिहाज से उनकी पारी काफी धीमी थी. मजबूत शुरुआत के लिए टीम इन दोनों के ही आसरे है. ऐसे में इन दोनों को अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करना होगा. यदि यह दोनों विफल रहते हैं तो मध्य क्रम में वो ताकत नजर नहीं आती है कि वह मजबूत लक्ष्य को हासिल कर सके या विशाल स्कोर बोर्ड पर टांग सके. निचले क्रम में क्रुणाल पांड्या से तेजतर्रार पारी की उम्मीद की जा सकती है.

लोकेश राहुल लगातार जूझ रहे हैं. ऋषभ पंत के रवैये में भी बदलाव नहीं दिखा. श्रेयस अय्यर ने भी पहले मैच में जल्दबाजी दिखाई थी. पदार्पण करने वाले शिवम दुबे भी विफल रहे थे. अनुभव की कमी यहां एक बड़ी समस्या है. इसके बावजूद टीम के बल्लेबाजी लाइनअप में बदलाव की गुंजाइश कम दिख रही है. 

यह भी पढ़ें: टी20 वर्ल्ड कप 2020 का शेड्यूल तय, जानें कब, कहां और कितने मैच होंगे 

अगर गेंदबाजी की बात की जाए तो मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाजों की गैरमौजूदगी में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल टीम के सबसे अनुभवी गेंदबाज हैं. पिछले मैच में चहल ने तो अपना काम किया था लेकिन बाकी गेंदबाज रोने के सिवाए कुछ नहीं कर पाए. खलील अहमद ने 19वें ओवर में चार चौके पड़वा मैच को भारत की झोली से निकालकर मेहमानों को तोहफा दे दिया था. वॉशिंगटन सुंदर, दीपर चाहर, क्रुणाल पांड्या भी छाप छोड़ने में विफल रहे थे. 

अनुभवहीन भारतीय गेंदबाजी आक्रमण के कारण बांग्लादेश को मनोबल और ऊंचा है. पहले मैच में मुशफिकुर रहीम ने इसका भरपूर फायदा उठाया था और टीम को जीत दिलाकर लौटे थे. उनके अलावा सौम्य सरकार और मोहम्मद नईम ने उनका अच्छा साथ दिया था. गेंदबाजी में बांग्लादेश के पास मुस्ताफिजुर रहमान का अनुभव है. अमीन हुसैन, अफिफ हुसैन ने रहमान का अच्छा साथ दिया था.

टीमें:
भारत:
रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, संजू सैमसन, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, वॉशिंगटन सुंदर, क्रुणाल पांड्या, युजवेंद्र चहल, राहुल चाहर, दीपक चाहर, खलील अहमद, शिवम दुबे, शार्दूल ठाकुर.
बांग्लादेश: महमूदुल्लाह (कप्तान), सौम्य सरकार, अबू हैदर, अफिफ हुसैन, मोसाद्देक हुसैन, अमीनुल इस्लाम, लिटन दास, मुशफिकुर रहीम, अराफात सनी जूनियर, अल अमीन हुसैन, मोहम्मद नईम, मुस्ताफिजुर रहमान, शफीउल इस्लाम, मोहम्मद मिथुन, तैजुल इस्लाम.