IND vs ENG: Virat Kohli ने ECB की Rotation Policy को किया सपोर्ट

इंग्लैंड (England) के दिग्गज केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) और इयान बेल (Ian Bell) समेत कई पूर्व  क्रिकेटर्स.  ईसीबी (ECB) की रोटेशन नीति (Rotation Policy) की काफी आलोचना कर चुके हैं. हलांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के विचार इससे अलग हैं.  

IND vs ENG: Virat Kohli ने ECB की Rotation Policy को किया सपोर्ट
विराट कोहली (फोटो-IANS)

अहमदाबाद: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का मानना है कि बायो बबल (Bio Bubble) के वक्त में रोटेशन पॉलिसी सही है क्योंकि कड़े क्वारंटीन को देखते हुए मानसिक थकान के कारण खिलाड़ियों की भूख बरकरार रहना बेहद मुश्किल है.

इंग्लैंड की टीम भारत के मौजूदा दौरे पर रोटेशन नीति (Rotation Policy) अपना रही है जिसकी केविन पीटरसन जैसे दिग्ग्जों ने आलोचना की है. कोहली का हालांकि मानना है कि जब तक खिलाड़ी बायो बबल का हिस्सा हैं तब तक बीच-बीच के ब्रेक बुरा विचार नहीं है.

यह भी पढ़ें- मैक्सवेल की विस्फोटक पारी, ट्विटर पर लोगों ने यूं लिए आरसीबी फैंस के मजे

कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा, ‘बायो बबल में जिस तरह नियमों का पालन करना पड़ता है उससे चीजें कभी कभी काफी नीरस हो जाती हैं और छोटी चीजों को लेकर खुद को उत्साहित रखना बेहद मुश्किल होता है.’

साल 2020 में कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण ब्रेक के बाद सभी टूर्नामेंट बायो बबल में खेले जा रहे हैं. कोहली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि खेल का कोई भी फॉर्मेट ब्रेक के लिए सही है. कोई भी इंसान पूरे साल इतने सारे मैच नहीं खेल सकता. सभी को ब्रेक के लिए समय की जरूरत है.’

 

 

उन्होंने कहा, ‘हमारी बेंच स्ट्रैंथ कहीं ज्यादा अहम है क्योंकि अगर आपके पास ऐसे खिलाड़ी हैं जिनमें भूख है, जो तैयार हैं, जो समझते हैं कि खेल किस तरफ जा रहा है और उनमें मौकों का फायदा उठाने का साहस है तो फिर हम आसान से खिलाड़ियों को रोटेट कर सकते हैं.’

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.