VIDEO: प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस तरह खामोश हो गए Virat Kohli, हार के बाद छलका दर्द
topStories1hindi975123

VIDEO: प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस तरह खामोश हो गए Virat Kohli, हार के बाद छलका दर्द

इंग्लैंड से हारने के बाद जब टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए तो एक हैरानी वाला वाक्या हुआ. दरअसल एक रिपोर्टर के सवाल पर वो कुछ बोलने से पहले थोड़ी देर एक दम शांत हो गए. 

VIDEO: प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस तरह खामोश हो गए Virat Kohli, हार के बाद छलका दर्द

नई दिल्ली: जो रूट की कप्तानी वाली इंग्लैंड की टीम ने टीम इंडिया को लीड्स टेस्ट मैच में पारी और 76 रनों से करारी मात दी. भारतीय बल्लेबाजों का खराब खेल इस मैच में हार का एक बहुत बड़ा काराण रहा. इसी बीच टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने इस हार के बाद पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए बड़ा बयान दिया है. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक ऐसी बात घटी जिसने सबको हैरानी में डाल दिया है. 

कुछ देर के लिए शांत हो गए कोहली

मैच के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के विराट कोहली कुछ देर के लिए कुछ बोल ही नहीं पाए. दरअसल एक रिपोर्टर ने उनसे सवाल पूछते हुए कहा, 'आपने कहा कि इंग्लैंड की टीम ने बल्ले के साथ अधिक इंटेंट दिखाया. तो क्या आपको लगता है कि फॉर्वड जाकर बैकफुट पर ज्यादा खेलना आपकी बातचीत का हिस्सा था? इस सवाल को सुनने के बाद विराट कोहली कुछ सेकंड के लिए खामोश हो जाते हैं और फिर कहते हैं, 'ईमानदारी से कहूं तो मुझे नहीं पता इस सवाल के जवाब में क्या कहना है'.

 

कोहली ने बताई हार की वजह

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘जब आप 80 रन (पहली पारी में) के अंदर आउट हो जाते हो तो यह स्कोरबोर्ड का दबाव होता है और इसके बाद प्रतिद्वंद्वी टीम इतना बड़ा स्कोर बना दे.’ भारतीय टीम ने तीसरे दिन दो विकेट पर 215 रन बनाए थे जिससे वह ठीक स्थिति में थी. कोहली ने कहा, ‘लेकिन हमने कल मैच में बने रहने के लिए अच्छा खेल दिखाया था, हम जितना प्रयास कर सकते थे, हमने किया और खुद को मौका भी दिया.’

शानदार थी इंग्लैंड की गेंदबाजी- कोहली

इंग्लैंड के गेंदबाजों के बारे में उन्होंने कहा, ‘लेकिन आज इंग्लैंड के गेंदबाजों ने काफी दबाव बना दिया और अंत में वह नतीजा हासिल किया जो वे चाहते थे.’ कोहली ने कहा, ‘पहली पारी का स्कोर काफी खराब रहा, यह इसी देश में हो सकता है, पूरी पारी ताश के पत्तों की तरह ढह जाए.’ चौथे दिन के खेल पर उन्होंने कहा, ‘हमने सोचा कि पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी है. लेकिन अनुशासित गेंदबाजी ने गलतियां करने पर मजबूर कर दिया और दबाव बहुत ज्यादा था. जब आप रन नहीं बना रहे हो तो दबाव से उबरना बहुत मुश्किल है. इससे ही बल्लेबाजी चरमरा गई.’

 

Trending news