IND vs NZ: इस कीवी पेसर ने बताया, क्या है आखिरी टेस्ट के लिए विराट के खिलाफ प्लान

India vs New Zealand: वेलिंगटन टेस्ट जीतने के बाद न्यूजीलैंड की टीम क्राइस्टचर्च टेस्ट के लिए रणनीति बना रही है. 

IND vs NZ: इस कीवी पेसर ने बताया, क्या है आखिरी टेस्ट के लिए विराट के खिलाफ प्लान
नील वेगनर की वापस से न्यूजीलैंड टीम की गेंदबाजी को बहुत मजबूती मिलेगी. (फोटो: IANS)

क्राइस्टचर्च:  न्यूजीलैंड की टीम वेलिंगटन टेस्ट जीत के बाद भी क्राइस्टचर्च में होने वाले आखिरी टेस्ट के लिए पूरा जोर लगाकर तैयारी कर रही है. दो टेस्ट की इस सीरीज में भारत के खिलाफ (India vs New Zealand) पहला टेस्ट जीतने के बाद अब टीम को शनिवार को आखिरी टेस्ट मैच खेलना है. इस मैच के लिए टीम में वापसी कर रहे नील वैगनर का कहना है की टीम विराट कोहली के खिलाफ खास रणनीति बना रही है. 

वैगनर पहले टेस्ट मैच में नहीं खेल सके थे, लेकिन अब वे वापसी के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि क्राइस्टचर्च में टीम दोनों छोर से विराट कोहली के खिलाफ दबाव बनाने की कोशिश करेगी जैसा कि उन्होंने वेलिंगटन में किया था. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: मांजरेकर ने बताई भारतीय तेज गेंदबाजों की कमी, कहा- नहीं कर सके यह काम

वेलिंगटन में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड ने एकतरफा खेल दिखाते हुए 10 विकेट से मात दी थी. इस मैच में टीम इंडिया ने पहली पारी में 165 रन और दूसरी पारी में 191 रन बनाए थे जिसमें कप्तान विराट कोहली ने 2 और 19 रन की पारियां खेली थीं.

पहले टेस्ट में ट्रेंट बोल्ट और टिम साउदी ने शानदार गेंदबाजी की थी. वहीं इस मैच में वैगनर पिता बनने के की वजह से नहीं खेले थे. वैगनर ने कहा, "उम्मीद है कि हम इसी तरह खेल दिखा सकेंगे और उसी तरह से गेंदबाजी कर सकेंगे जैसी की हमने वेलिंगटन में दबाव बनाया था. इससे हमारा काम आसान हो जाएगा. "

यह भी पढ़ें: 16 साल की यह लड़की बनी 10 विकेट लेने वाली पहली महिला क्रिकेटर, ICC ने किया सलाम

वैगनर ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के खिलाफ अपनी टीम का प्लान भी बताया. उन्होंने कहा, "मैं जिस भी टीम के खिलाफ खेला हूं, मेरी कोशिश रही है कि  मैं उनके बेस्ट खिलाड़ियों को टारगेट करूं. क्योंकि आप जानते हैं कि इससे बहुत बड़ा फर्क पड़ जाता है. हम उनके (विराट के) खिलाफ यह सुनिश्चित करेंगे कि दोनों छोर से उन पर दबाव रहे और वे रन नहीं बना सकें." 

वैगनर ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों के लिए यहां की उछाल भरी पिच पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं हैं. उन्होंने कहा, "जाहिर है कि उनके लिए यहां खेलना मुश्किल काम है जहां उन्हें ज्यादा पेस और बाउंस मिलता है. जबकि भारत में ज्यादा बाउंस और पेस नहीं मिलता इसलिए उनके लिए इन हालातों में ढलना आसान नहीं है." 
(इनपुट आईएएनएस)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.