close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND vs SA Day 4 Tea: मयंक के विकेट ने दिया था झटका, रोहित-पुजारा ने जगाई उम्मीद

India vs South Africa: विशाखापत्तनम टेस्ट के चौथे दिन के दूसरे सत्र में रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा ने तेजी से बल्लेबाजी कर टीम इंडिया की उम्मीदें जगाई हैं. 

IND vs SA Day 4 Tea: मयंक के विकेट ने दिया था झटका, रोहित-पुजारा ने जगाई उम्मीद
रोहित शर्मा ने दूसरी पारी में शानदार हाफ सेंचुरी लगाई. (फोटो : IANS)

नई दिल्ली: विशाखापत्तनम में चल रहे भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया को पहली पारी में केवल 71 रन की बढ़त मिल सकी. चौथे दिन के खेल के पहले ही सत्र में जब टीम इंडिया ने मेहमान टीम को 431 रन पर आउट किया. तभी तय हो गया था कि मैच टीम इंडिया के लिए जीतना आसान नहीं होगा. दूसरी पारी में टीम इंडिया को तेजी से रन बनाने की जरूरत थी. पहला विकेट जल्दी गिरने के बाद टीम इंडिया की उम्मीदों को रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा ने जगाया. 

शुरु में ही लगा झटका
दूसरी पारी में जब मयंक और रोहित ने पारी की शुरूआत की तो लग रहा था कि दोनों एक बार फिर टीम इंडिया के लिए पहली पारी की तरह शुरुआत करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं सका. मयंक केवल 7 रन के निजी स्कोर पर ही केवश महाराज की गेंद को ठीक से पढ़ न सके और गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर स्लिप पर चली गई जहां उन्हें लपकने में कप्तान डु प्लेसिस ने कोई गलती नहीं की.

यह भी पढ़ें: पाक में श्रीलंकाई टीम को कड़ी सुरक्षा, सेना ने T20 मैच से एक दिन पहले चलाया सर्च ऑपरेशन

रोहित-पुजारा ने निभाई जिम्मेदारी 
केवल 21 के स्कोर पर एक विकेट गिरने पर रोहित और पुजारा पर यह जिम्मेदारी थी की वे तेजी से रन बनाए पुजारा को समय लगा, जल्द ही दोनों ने तेजी से रन बनाने शुरू किए और पहले रोहित ने और फिर पुजारा ने अपनी फिफ्टी पूरी की. टीम के 103 के स्कोर पर रोहित ने फिफ्टी के बाद पिड्ट को लॉन्ग आन पर छक्के लगाने की कोशिश की जिसे मुथुस्वामी ने पकड़ने की बेहतरीन कोशिश की लेकिन इस दौरान उनका पैर बाउंड्री पर लग गया. रोहित आउट होने से बच गए.

चौके और छक्के भी लगाए
इसके बाद रोहित और पुजारा ने बड़े शॉट्स लगाने में कोई गुरेज नहीं किया और चौकों के साथ छक्के भी लगा डाले और चाय तक टीम इंडिया का स्कोर एक विकेट पर 175 रन कर दिया. रोहित 84 और पुजारा 75 के निजी स्कोर तक पहुंच चुके थे. चायकाल तक टीम इंडिया की ली 246 रन हो गई थी और  अभी चौथे दिन का एक सत्र बाकी है. जबकि टीम के हाथ में 9 विकेट अभी भी हैं. यहां गौर करने वाला दिलचस्प आंकड़ा यह है कि जब भी दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में पहली पारी में 400+ का स्कोर बनाया है, वह कभी मैच हारी नहीं है.

 5 सत्रों में जीतने की चुनौती
अब जबकि मैच में पांच सत्र रह गए हैं तो ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि टीम इंडिया मेहमान टीम को मजबूत लक्ष्य दे पाएगी और उस पर दबाव डाल कर उसे आउट करेगी. विराट विकेट से आखिरी दिन काफी उम्मीद करेंगे जो कि गलत नहीं होगा. बल्लेबाजों ने अपना काम काफी हद तक कर दिया है. अब गेंदबाज ही टीम इंडिया को मैच जिता सकते हैं. लेकिन मैच को अब एकतरफा बिलकुल भी नहीं कहा जा सकता.