close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND vs SA: वीवीएस लक्ष्मण की रोहित के लिए खास सलाह, ओपनिंग के लिए न करें ये गलती

IND vs SA:  टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण का कहना है कि रोहित के पास परिपक्वता और अनुभव दोनों हैं. 

IND vs SA: वीवीएस लक्ष्मण की रोहित के लिए खास सलाह, ओपनिंग के लिए न करें ये गलती
वीवीएस लक्ष्मण ने चार टेस्ट मैच में सलामी बल्लेबाजी की थी. (फोटो : IANS)

नई दिल्ली: दो अक्टूबर से भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को ओपनर की जिम्मेदारी सौंपी गई है. रोहित अपने टेस्ट करियर में पहली बार टीम इंडिया के लिए ओपनिंग करने वाले हैं. भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने कहा है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जाने वाली तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में रोहित शर्मा को अपना स्वाभाविक खेल खेलना होगा.

लक्ष्मण को भी दी गई थी यह जिम्मेदारी
वीवीएस लक्ष्मण को टीम इंडिया के लिए पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी दी गई थी, लेकिन वे इसमें सफल नहीं रहे थे. लक्ष्मण ने भारत के पूर्व विकेटकीपर दीपदास गुप्ता से एक  इंटरव्यू में कहा, "रोहित के पास सबसे बड़ा फायदा यह है कि उनके पास अनुभव है जो मेरे पास नहीं था. मैंने सिर्फ चार टेस्ट मैच खेलने के बाद सलामी बल्लेबाजी की थी. रोहित को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 12 साल हो गए हैं. उनके पास परिपक्वता और अनुभव दोनों हैं और वह अच्छी फॉर्म में भी हैं." 

यह भी पढ़ें: IND vs SA: टीम इंडिया के लिए टेस्ट में ओपनिंग करेंगे रोहित, क्या कहता है रिकॉर्ड

यह गलती की थी लक्ष्मण ने
लक्ष्मण ने कहा, "मुझे लगता है कि पारी की शुरुआत करते हुए मैंने जो गलती की थी वो यह थी कि मैंने अपनी मानसिकता बदली थी, वो भी वो मानसिकता जिसने मुझे मध्य क्रम में काफी सफलता दिलाई थी." अब तक टीम इंडिया के लिए ओपनर के तौर पर किए गए प्रयोग में केवल वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री ही सफल रहे हैं. बाकि जितने खिलाड़ियों पर यह प्रयोग किया गया वे अन्य क्रम की बल्लेबाजी में ज्यादा सफल रहे..

यह होगी मुश्किल
दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, "अगर आप अपने स्वाभाविक खेल को बदलते हैं तो आपको परिणाम नहीं मिलेंगे क्योंकि आपका दिमाग स्थिर नहीं होगा और आप अपनी लय खो बैठेंगे. रोहित एक लय में खेलने वाले खिलाड़ी हैं और अगर उनकी लय से छेड़छाड़ होती है तो उनके लिए मुश्किल होगा."

इस क्रम पर ज्यादा बैटिंग की है रोहित ने टेस्ट में
अभ्यास मैच में रोहित को जब वर्नेन फिलेंडर ने उन्हें पारी के दूसरे ओवर में ही उन्हें पवेलियन वापस भेज दिया. वे केवल दो ही गेंद खेल सके थे. रोहित ने अब तक 27 टेस्ट खेले हैं, इनमें उन्होंने 39.62 के औसत से 1585 रन बनाए हैं. वे टेस्ट में अब तक सबसे ज्यादा छठे क्रम पर बल्लेबाजी करते आए थे.  
(इनपुट आईएएनएस)