close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND vs WI: वेस्टइंडीज में 2 साल बाद शतक लगाकर बोले रहाणे, ‘स्पेशल फील कर रहा हूं’

टीम इंडिया को एंटिगा टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ 318 रन से जीत दिलाने वाले अजिंक्य रहाणे ने 17 टेस्ट बाद शतक लगाया. यह वेस्टइंडीज में उनका दूसरा शतक है. 

IND vs WI: वेस्टइंडीज में 2 साल बाद शतक लगाकर बोले रहाणे, ‘स्पेशल फील कर रहा हूं’
रहाणे टीम इंडिया के पिछले वेस्टइंडीज दौरे में शतक लगा चुके हैं. (फोटो: Reuters)

नॉर्थ साउंड (एंटिगा): भारत के लिए वेस्टइंडीज के खिलाफ (India vs West Indies) पहले टेस्ट में शतक लगाने वाले टीम इंडिया के उप-कप्तान अंजिक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने अपने इस सेंचुरी को विशेष बताया है. रहाणे ने 17 टेस्ट मैच के बाद खेल के सबसे लंबे प्रारुप में शतक जमाया है. रहाणे ने इस मैच की दूसीर पारी में 102 रन बनाए जिससे टीम इंडिया वेस्टइंडीज को 419 का विशाल लक्ष्य देने में कामयाब हो सका. रहाणे ने पहली पारी में सबसे ज्यादा 81 रन भी बनाए और वे मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे.

अपनी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए रहाणे ने कहा, "मैं काफी विशेष महसूस कर रहा हूं. मुझे लगता है कि हमारे लिए पहली पारी काफी अहम थी. मेरे और लोकेश राहुल के बीच में हुई साझेदारी ने अच्छा काम किया. इससे पहले मैं हैम्पशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेल रहा था जिससे मुझे मदद मिली." रहाणे ने अपने अवार्ड को अपने समर्थकों को समर्पित किया. उन्होंने कहा, "पिछले तकरीबन दो साल में जिन लोगों ने मेरा समर्थन किया मैं यह अवार्ड उन्हें समर्पित करता हूं. विकेट काफी अच्छी थी. हम जानते थे कि अगर हम विकेट पर टिके रहे तो रन अपने आप आएंगे. रणनीति सिर्फ बल्लेबाजी करने की थी."

बल्ले से रहाणे तो गेंद से जसप्रीत बुमराह ने अपना कमाल दिखाया और दूसरी पारी में सात रन देकर पांच विकेट लिए. बुमराह ने अपने प्रदर्शन पर कहा, "जीत कर अच्छा लग रहा है. एक गेंदबाजी ईकाई के तौर पर हमने दबाव बनाया जो अच्छा रहा. हमने हवा का फायदा उठाया और अपनी रणनीति पर बने रहे. आउटस्विंगर डालने में काफी मेहनत लगती है. मेरे पास इनस्विंगर पहले से थी, लेकिन मैं जितना खेलता गया उतना इसे लेकर आत्मविश्वास आता गया."

 

बुमराह ने कहा, "इंग्लैंड में ड्यूक गेंद से खेलने से मदद मिली. इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है और मैं हमेशा से नई चीजें करने की कोशिश करता हूं. अगर गेंद स्विंग नहीं करती है तो मैं कोशिश करता हूं कि सीम से गेंद को मूव करा सकूं." मैच की दूसरी पारी में रहाणे के अलावा हनुमा विहारी (93) तथा कप्तान विराट कोहली (51) ने भी उल्लेखनीय योगदान दिया. 
(इनपुट आईएएनएस)