तिरुवनंतपुरम जीत पर बोले पोलार्ड, 'यूनिट की तरह काम करेंगे तो अच्छे नतीजे मिलेंगे'

India vs West Indies: तीन टी20 मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में वेस्टइंडीज ने टीम इंडिया को 8 विकेट से करारी मात दी. मैच के बाद पोलार्ड ने टीम की जीत का कारण बताया. 

तिरुवनंतपुरम जीत पर बोले पोलार्ड, 'यूनिट की तरह काम करेंगे तो अच्छे नतीजे मिलेंगे'
कीरोन पोलार्ड का कहना है कि एक कप्तान के तौर पर उन्हें अपनी टीम पर गर्व है (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: वेस्टइंडीज की टीम जब कीरोन पोलार्ड (Kieron Pollard) की कप्तानी में भारत के दौरे पर आई थी उस समय वह एक अंडर डॉग टीम की तरह थी. उसका सामना पहले अफगानिस्तान से हुआ जिसके खिलाफ उसने टी20 सीरीज 1-2 से गंवाई. फिर हैदराबाद ने अकेले विराट कोहली ने ही उसे हरा दिया. लेकिन तिरुवनंतपुरम में पोलार्ड की युवा टीम ने टीम इंडिया को हर विभाग में मात दी और 8 विकेट से जीत हासिल कर सीरीज (India vs West Indies) में शानदार वापसी की. मैच के बाद पोलार्ड ने अपनी टीम की सफलता के बारे में बात की. 

बनाई थी रणनीति
मैच के बाद पोलार्ड ने कहा, "नीचे की रैंकिंग जैसी चीजें होती रहती हैं. अलग हालात हैं. वो अब पुरानी बात है. हम जो काबू में वह कर सकते हैं वही जो हमारे सामने हैं. मेरे महंगे ओवर के बाद टीम इंडिया को 170 पर रोकना शानदार रहा. जिस तरह से हमने बल्लेबाजी की, हमने इस पर चर्चा की थी कि हम खेल को कैसे लेंगे. और लड़कों ने शानदार खेल दिखाया."

यह भी पढ़ें: IND vs WI: वेस्टइंडीज की पारी में 5वें ओवर में मिले दो जीवनदान और पलट गया मैच

युवा खिलाड़ियों के लेकर उत्साह
अपनी युवा टीम के बारे में पोलार्ड ने कहा, "हमारे पास कुछ लड़के हैं जिन्होंने सीपीएल में बढ़िया खेल दिखाया है और हम उनके लिए उत्साहित हैं. मैं इन युवा खिलाड़ियों के लिए बहुत उत्साहित हूं. वाल्शी के चार ओवर बहुत शानदार रहे. केस्रिक विलियम्स की वापसी बहुत बढ़िया रही. सिमंस ने धीमी शुरुआत की, लेकिन वे जानते हैं कि वे आगे बढ़ सकते हैं. उन्होंने भारत में काफी क्रिकेट खेला है."

मैं तो क्रिकेट के मजे ले रहा हूं
पोलार्ड ने अपनी टीम के युवाओं और उनके सीनियर्स से संबंधों पर बात करते हुए कहा, "सीनियर्स ने राह दिखाई और युवा उनका अनुसरण कर रहे हैं. मैं अपने क्रिकेट के मजे ले रहा हूं.ज्यादा से ज्यादा मैं इतना ही कर सकता हूं कि जानकारी युवाओं को दे दूं. यदि हम एक यूनिट की तरह काम करेंगे तो  हमें अच्छे नतीजे मिलेंगे."

यह भी पढें: IND vs WI: तिरुवनंतपुरम में छाए शिवम दुबे, लगाई तूफानी फिफ्टी

कप्तान के तौर पर मुझे गर्व है
कप्तान और अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए पोलार्ड ने कहा, "एक लीडर के तौर पर मुझे गर्व है. भगवान ने मुझे क्रिकेट खेलने का हुनर दिया है. इसलिए जब भी मैं खेलने जाता हूं तो जीतने की चाह के साथ जाता हूं. अब कप्तान के तौर पर यह चाह मजबूत हो गई है."

इन बातों में करना है हमें सुधार
पोलार्ड ने माना की अब भी टीम के प्रदर्शन में काफी सुधार की संभावना है. उन्होंने कहा, "कुछ मामले हैं जहां सुधार की गुंजाइश है. कुछ वाइड, कुछ नो बॉल्स, हम वानखेड़े में फाइनल मैच के लिए उत्सुक हैं."