close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अपने डेब्यू मैच के अहसास के बारे में क्या बोले दुनिया के सबसे वजनी क्रिकेटर रखीम कॉर्नवॉल

जमैका में अपने करियर का पहला टेस्ट खेल रहे रखीम कॉर्नवाल ने अपने पहले टेस्ट दिन के बारे में कहा कि उनके लिए यह अनुभव शानदार रहा. 

अपने डेब्यू मैच के अहसास के बारे में क्या बोले दुनिया के सबसे वजनी क्रिकेटर रखीम कॉर्नवॉल
रखीम कॉर्नवॉल ने अपने पहले मैच के पहले दिन एक विकेट और दो कैच लिए. (फोटो:Twitter/@windiescricket)

किंग्सटन (जमैका): वैसे तो सबीना पार्क में  भारत और वेस्टइंडीज (India vs West Indies) के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच का पहला दिन रोमांचक ही रहा, दिन के खेल में कई खिलाड़ियों का खेल असरदार रहा. पहले जेसन होल्डर की बॉलिंग से टीम इंडिया बैकफुट पर नजर आती दिखी. फिर मयंक अग्रवाल और विराट कोहली की हाफ सेंचुरी वाली पारियों ने टीम इंडिया की वापसी कराई.  इसके बाद फिर विंडीज गेंदबाज वापसी करते दिखे ही थे कि हनुमा विहारी और ऋषभ पंत ने अहम साझेदारी कर एक बार फिर टीम इंडिया को मैच में ला दिया. इस सबके बीच वेस्टइंडीज के रखीम कॉर्नवॉल ही दिन के हीरो रहे जिन्होंने अपने डेब्यू मैच के पहले ही दिन एक विकटे लेकर दो शानदार कैच भी लपके. 

एक शानदार अहसास
मैच के बाद दुनिया के सबसे वजनी क्रिेकेटर रखीम कॉर्नवॉल ने कहा के अपने डेब्यू प्रदर्शन से अच्छा महसूसकर रहे हैं. उन्होंने दिन का खेल खत्म होने के बाद संवाददाताओं से कहा, “अपना डेब्यू मैच खेलना एक बढ़िया अहसास है. मुझे लगता है कि शुरुआत में गेंद बल्ले पर अच्छे से आ रही थी. मुझे मेहनत करनी पड़ी और गेंद सही इलाके में फेकनी पड़ी.”  इस पारी में टीम इंडिया के पहला विकेट 32 के स्कोर पर केएल राहुल का गिरा जो कि केवल 13 रन बनाकर आउट हुए. उन्हें वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने अपने पहले ही ओवर में रखीम के हाथों कैच कराया.

यह भी पढ़ें: IND vs WI: मयंक अग्रवाल ने बताया, पहले दिन कैसी थी पिच और वेस्टइंडीज की गेंदबाजी

पुजारा का अहम विकेट
वेस्टइंडीज को दूसरी सफलता रखीम कॉर्नवॉल ने ही दिलाई जब उन्होंने चेतेश्वर पुजारा को केवल 6 रन के निजी स्कोर पर आउट कर अपने टेस्ट करियर का पहला शिकार बनाया. रखीम ने पुजारा को अपनी एक ऑफ ब्रैक पर बैकवर्ड प्वाइंट पर शमराह ब्रूक्स के हाथों कैच कराया. इसके बाद जब विराट और मयंक बड़ी साझेदारी बनाने जा रहे थे तब रखीम ने होल्डर की गेंद पर मयंक का कैच पकड़ा और टीम इंडिया को फिर बैकफुट पर ला दिया. 

गेंदबाजी और टॉस पर
कॉर्नवॉल ने पहले दिन 27 ओवरों में 8 मेडन ओवर फेंके और केवल 69 रन ही दिए. उन्होंने कहा, ”हमारे सीमर्स ने बढ़िया गेंदबाजी कीऔर जब मुझसे गेंदबाजी करने को कहा गया, मुझे भी यही करना था. पहले टेस्ट में विकेट लेना बढ़िया एहसास रहा. मुझे लगता है कि पिच में काफी नमी थी. इसलिए हमने सोचा कि अगर बॉलिंग करने का मौका मिला तो हम शायद शुरुआती विकेट ले सकें और टॉस हमारे हक में गया. टेस्ट क्रिेकेट का पहला दिन बढ़िया रहा.”

यहां से टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने वापसी कराई और विराट (72), हनुमा विहारी (42) और ऋषभ पंत (27) की पारीयों के दम पर दिन का खेल खत्म होते-होते टीम इंडिया का स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 264 रन हो गया.