IND vs WI: वेस्टइंडीज की पारी में 5वें ओवर में मिले दो जीवनदान और पलट गया मैच

India vs West Indies: 171 रन का पीछा करने उतरे लुइस और सिमंस को शुरु में बड़े शॉट्सलगाने में परेशानी हो रही थी, लेकिन दो जीवनदान ने मैच का पलट दिया.

IND vs WI: वेस्टइंडीज की पारी में 5वें ओवर में मिले दो जीवनदान और पलट गया मैच
इवान लुइस ने सबसे पहेल बड़े शॉट्स लगा कर वेस्टइंडीज टीम के लिए सबसे पहले तेजी से रन बनाए. (फोटो: ANI)

नई दिल्ली: भारत और वेस्टइंडीज (India vs West Indies) के बीच टी20 सीरीज का दूसरा मैच तिरुवंतन पुरम में भी रोमांचक होता दिखा. वेस्टइंडीज की टीम जब 171 रन का पीछा करने मैदान में उतरी तो यह लक्ष्य मुश्किल तो नहीं लग रहा था लेकिन दर्शकों में इस बात का कौतूहल जरूर था कि विराट कोहली की टीम इस सम्मानजनक स्कोर का बचाव करने में कैसा और कितना जोर लगा पाएगी. पहले पांच ओवर तक सब ठीक था लेकिन दो जीवन दान के बाद मैच पलटता दिखने लगा.

दुबे  की पारी के दम पर बने 170 रन
टीम इंडिया ने शिवम दुबे के तूफानी 54 रन की बदौलत 170 रन बोर्ड पर टांगने में कामयाबी हासिल की. टीम इंडिया की बैटिंग को देखकर लग रहा था कि तिरुवनंतपुरम की पिच हैदाराबाद की तरह आसान नहीं है. लेकिन वेस्टइंडीज की पारी में यह बात भी जल्दी ही गलत साबित होती दिखी. 

यह भी पढें: IND vs WI: तिरुवनंतपुरम में छाए शिवम दुबे, लगाई तूफानी फिफ्टी

पहले नहीं लग रहे थे बड़े शॉट्स 
जब वेस्टइंडीज की टीम बल्लेबाजी करने उतरी तो शुरुआती ओवरों से ही इवान लुइस और लिंडल सिमंस दोनों ने ही खुल कर शॉट्स खेलने की कोशिश की. लेकिन दोनों में से किसी को कोई खास सफलता नहीं मिली. चार ओवर तक दोनों ही खिलाड़ियो  बोर्ड पर 23 रन ही लगा सके और अपनी टीम के लिए केवल तीन चौके ही लगा सके. 

एक ओवर में दो जीवनदान
5वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर पहले वॉशिंगटन सुंदर ने मिड ऑफ पर सिमंस का एक आसान कैच छोड़ दिया. इसके बाद इसी ओवर में ऋषभ पंत ने इवान लुइस का कैच छोड़ कर उन्हें जीवन दान दे दिया. 

फिर पलट गया मैच
जीवनदान मिलने के बाद ही विंडीज पारी बदल गई और पहले लुइस ने छक्के लगाने शुरु किए और उसके बाद सिमंस ने भी अपने हाथ खोले और 10वें ओवर में ही टीम का स्कोर 73 तक पहुंचा दिया जहां 40 रन के निजी स्कोर पर लुइस सुंदर की गेंद पर आउट हुए. इस विकेट से वेस्टइंडीज के रनों की रफ्तार कम नहीं हुई. और लुइस की जगह हेटमायर ने ले ली. 

हेटमायर के आउट होने के बाद सिमंस ने टीम इंडिया के बॉलर्स को कोई मौका नहीं दिया और निकोलस पूरन के साथ टीम को 9 गेंद शेष रहते ही जीत दिला दी.