close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देवधर ट्रॉफी: केदार जाधव और यशस्वी ने ‘इंडिया बी’ को चैंपियन बनाया, नदीम भी चमके

Deodhar Trophy: इंडिया ‘बी’ ने फाइनल में ‘इंडिया सी’ को हराया. इसी मैच में शुभमन गिल ने विराट कोहली का 10 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा.

देवधर ट्रॉफी: केदार जाधव और यशस्वी ने ‘इंडिया बी’ को चैंपियन बनाया, नदीम भी चमके
केदार जाधव ने मैच की सबसे बड़ी पारी खेली. (फाइल फोटो)

रांची: इंडिया-बी ने 47वीं देवधर ट्रॉफी वनडे क्रिकेट टूर्नामेंट (47th Deodhar Trophy) का खिताब जीत लिया है. उसने फाइनल में सोमवार को इंडिया-सी को 51 रन से हराया. इंडिया-बी (India B) की जीत के तीन हीरो केदार जाधव (Kedar Jadhav), यशस्वी जायसवाल और शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem) रहे. केदार जाधव ने 86 और यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) ने 54 रन बनाए. इसके बाद लेफ्ट आर्म स्पिनर शाहबाज नदीम (4/32) ने चार विकेट झटके. 

इंडिया-बी ने झारखंड राज्य क्रिकेट संघ (जेएससीए) स्टेडियम में खेले गए देवधर ट्रॉफी फाइनल (Deodhar Trophy) में पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट खोकर 283 रन का स्कोर बनाया. फिर इंडिया-सी (India C) को निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट पर 232 रन पर रोक दिया. इंडिया-सी के लिए प्रियम गर्ग (Priyam Garg) ने 77, अक्षर पटेल ने 38, जलज सक्सेना ने नाबाद 37 और मयंक अग्रवाल ने 28 रन का योगदान दिया. इंडिया-बी की ओर से नदीम के चार विकेटों के अलावा मोहम्मद सिराज और रूश कलारिया ने एक विकेट लिया. 

यह भी पढ़ें: Deodhar Trophy: शुभमन गिल ने तोड़ा विराट कोहली का 10 साल पुराना रिकॉर्ड

इससे पहले, इंडिया-बी की टीम ने 50 ओवरों में सात विकेट खोकर 283 रन का स्कोर खड़ा किया. ऋतुराज गायकवाड़ के पहले ही ओवर में आउट होने से इंडिया-बी को झटका जरूर लगा था लेकिन उनके बाद आए यशस्वी ने टीम को संभाला. पार्थिव (14) के रूप में इंडिया-बी ने 28 के कुल स्कोर पर अपना दूसरा विकेट खोया. बाबा अपराजित (13) ने यशस्वी के साथ मिलकर स्कोर 73 रन किया और यहीं अपराजित पवेलियन लौट लिए. 

79 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का मारने वाले यशस्वी भी 92 के कुल स्कोर पर आउट हो गए. यहां से केदार जाधव ने रन गति को बनाए रखा. विजय शंकर ने भी अंत में 33 गेंदों पर चार चौके और दो छक्कों की मदद से 45 रन बनाए. जाधव ने 84 गेंदों पर चार चौके और चार छक्कों की सहायता से बेहतरीन पारी खेली लेकिन 276 के कुल स्कोर पर आउट हो गए. यहां से कृष्णप्पा गौतम ने 10 गेंदों पर तीन चौके और तीन छक्के लगाते हुए नाबाद 35 रन बनाए और टीम को मजबूत स्कोर दिया. इंडिया-सी के लिए ईशान पोरेल (Ishan Porel) ने पांच विकेट लिए. जलज सक्सेना और अक्षर पटेल को एक-एक विकेट मिला. 

यह भी पढ़ें: भारत-बांग्लादेश मैच पर फिर पड़ी मौसम की बुरी नजर! अब राजकोट पर मंडरा रहा तूफान

इसी मैच में शुभमन गिल (Shubman Gill) ने भी एक रिकॉर्ड बनाया. उन्होंने इस मैच में इंडिया-सी की कप्तानी की. इसके साथ ही वे इस टूर्नामेंट के फाइनल में कप्तानी करने वाले सबसे कम उम्र के कप्तान बन गए. शुभमन ने विराट कोहली का 10 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया. कोहली ने 2009 में 21 साल 142 दिन की उम्र में देवधर ट्रॉफी के फाइनल में अपनी टीम की कप्तानी की थी. वहीं, जब शुभमन गिल बतौर कप्तान सोमवार को उतरे तो उनकी उम्र महज 20 साल 57 दिन थी.