close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvAUS: गेंदबाज उमेश यादव के बचाव में उतरे जसप्रीत बुमराह, फैंस ने साधा था निशाना

टी20 के अंतिम ओवर में उमेश यादव को अंतिम ओवर में 14 रन का बचाव करके ऑस्ट्रेलिया को 127 रन के लक्ष्य तक पहुंचने से रोकना था.

INDvAUS: गेंदबाज उमेश यादव के बचाव में उतरे जसप्रीत बुमराह, फैंस ने साधा था निशाना
बुमराह ने 19वें ओवर में शानदार गेंदबाजी से केवल दो रन दिए और भारत को मैच में वापसी कराई. (फोटो साभार: IANS)

विशाखापट्टनम: जसप्रीत बुमराह ने आलोचनाओं से घिरे उमेश यादव का बचाव करते हुए कहा कि कोई दिन ऐसा भी होता है जब अंतिम ओवर में गेंदबाजी की रणनीति कारगर नहीं हो पाती. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरुआती टी20 के अंतिम ओवर में उमेश 14 रन का बचाव नहीं कर सके. वहीं बुमराह ने 19वें ओवर में शानदार गेंदबाजी से केवल दो रन दिये और भारत को मैच में वापसी करायी. इससे उमेश को अंतिम ओवर में 14 रन का बचाव करके ऑस्ट्रेलिया को 127 रन के लक्ष्य तक पहुंचने से रोकना था.

उमेश के अंतिम ओवर में बारे में पूछने पर बुमराह ने सीनियर साथी का बचाव करते हुए कहा, ‘‘ऐसा हो जाता है, किसी भी हालात में अंतिम ओवर में गेंदबाजी करना हमेशा मुश्किल होता है. यह दोनों तरफ जा सकता है और कभी कभार तो इसमें आधी-आधी संभावनायें ही होती हैं. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘आप अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश करते हो और आप अपनी रणनीति में स्पष्ट होते हो. कुछ दिन तो यह कारगर होता है और कई दिन यह कामयाब नहीं हो पाता. इसके बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है. हम मैच का अंत अपने पक्ष में करना चाहते थे लेकिन यह नहीं हो सका तो कोई बात नहीं. ’’

गेंदबाज उमेश यादव बने T20 की हार के 'विलेन', यूजर्स बोले- 'तुमसे न हो पाएगा'
बुमराह ने कहा कि टॉस जीतने के बाद ऑस्ट्रेलिया के पास यह चीज फायदेमंद थी कि उन्हें पता था कि उन्हें क्या करना है क्योंकि उनके सामने लक्ष्य था जबकि भारतीय टीम पारी को प्रतिस्पर्धी स्कोर बनाने में लगी रही.
 
INDvAUS: धोनी ने खराब रिकॉर्ड में जडेजा को भी पीछे छोड़ा, सोशल मीडिया पर यूं उड़ा मजाक
उन्होंने कहा, ‘‘जब आपके सामने लक्ष्य होता है तो यह थोड़ा अलग होता है. यह छोटा लक्ष्य था, इसलिये एक बाउंड्री लगाने के बाद आपको ज्यादा जोखिम उठाने की जरूरत नहीं थी. लेकिन पहले बल्लेबाजी करते हुए हम चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने की कोशिश कर रहे थे इसलिये शायद यह थोड़ा अलग था. वे बाउंड्री लगाने के बाद स्ट्राइक रोटेट कर रहे थे. ’’

मैक्सवेल ने मुश्किल पिच पर बेहतरीन पारी खेली: फिंच
 भारत को तीन विकेट से हराने के बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने अपने विस्फोट बल्लेबाज ग्लैन मैक्सवेल की तारीफ की है. ऑस्ट्रेलिया ने ग्लेन मैक्सवेल (56) की अर्धशतकीय पारी के दम पर रोमांचक मैच में भारत को तीन विकेट से हरा दिया था.

फिंच ने मैच के बाद कहा, "जब बुमराह को स्विंग को मिलती है तो रन बनाना मुश्किल होता है. लेकिन रन आउट से भी उन्हें कोई मदद नहीं मिला. नाथन विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं. वह आईपीएल में भी लगातार अच्छा करते आ रहे हैं. मैक्सवेल ने एक ऐसी पिच पर बेहतरीन पारी खेली, जो बल्लेबाजी के लिए बेहद मुश्किल थी."